बिहारः पप्पू यादव ने पूछा-डॉक्टरों के मना करने पर भी गुजरात से क्यों रेमडेसिविर मंगवा रहे नीतीश कुमार

पटना स्थित पार्टी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए  राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव

पटना स्थित पार्टी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव

Pappu Yadav Press Conference : सोमवार की देर रात बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विशेष आग्रह पर 72 घंटे के भीतर रेमडेसिविर इंजेक्‍शन की पहली खेप अहमदाबाद से पटना पहुंची है. इसी मुद्दे पर पूर्व सांसद पप्पू यादव ने नीतीश कुमार को घेरते हुए सवाल पूछा है.

  • Share this:
पटना. कोरोना से बिहार की स्थिति विकट और बेहाल है.. सरकारी और निजी अस्पतालों ने ऑक्सीजन ( (Oxygen Crisis) और दवाओं को लेकर अपने हाथ खड़े कर लिए हैं. सरकार सिर्फ वादे कर रही है कि अस्पतालों को ऑक्सीजन मुहैया किया जा रहा है. इन हालातों को बयां करते हुए जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने सवाल किया है कि जब एनएमसीएच (NMCH), एम्स और आईएमए रेमडेसिविर (Remdesivir) को लेकर राज्य सरकार को ये चिट्ठी लिख चुकि है कि कोरोना में इसकी जरूरत नहीं है तो फिर नीतीश कुमार क्यों अहमदाबाद से 14 हजार रेमडेसिविर मंगा रहे हैं.

एक प्रेस कांफ्रेंस में पप्पू यादव ने आरोप लगाया कि सरकार जान बूझकर पैनिक पैदा कर रही है और दवा कम्पनियो को फायदा पहुंचा रही है. पूर्व सांसद पप्पू यादव ने कहा कि ऑक्सीजन की कमी से रोजाना दर्जनों मौत हो रही है, लेकिन सरकार सही आंकड़ें नहीं बता रही है. पटना में रोज 100 मौतें हो रही हैं लेकिन सरकार के आंकड़े मात्र 20 ही है. पूर्व सांसद ने सभी सरकारी और निजी अस्पतालों की बदतर स्थिति पर अस्पतालों को आर्मी के हवाले करने की मांग की है.

नए मरीज मिलने के साथ मौतों का आंकड़ा भी बढ़ रहा

मालूम हो कि बिहार में कोरोना के नए मरीजों के मिलने के साथ ही मौत का आंकड़ा भी रोजाना बढ़ रहा है. पिछले 24 घंटे के दौरान बिहार में जहां कोरोना से 68 लोगों की मौत हुई है. वहीं कोरोना के मरीजों का आंकड़ा भी बढ़कर 89 हजार के करीब जा पहुंचा है. पप्पू यादव इस बीच लोगों को मदद पहुंचा रहे हैं और खुद भी पार्टी स्तर पर ऑक्सीजन के सिलेंडर दे रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज