Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Bihar Election: विधायकों का टिकट काटने में नीतीश से आगे निकले तेजस्वी, RJD ने 17 तो JDU से 10 को किया बेटिकट

    तेजस्‍वी यादव और नीतीश कुमार दोनों ने इस बार के चुनाव में अपने विधायकों के टिकट काटे हैं (फाइल फोटो)
    तेजस्‍वी यादव और नीतीश कुमार दोनों ने इस बार के चुनाव में अपने विधायकों के टिकट काटे हैं (फाइल फोटो)

    Bihar Assembly Election 2020: राजद की तरफ से तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कई ऐसे चेहरों का टिकट काटा है, जिनकी छवि दागदार है या फिर नन परफॉर्मर की. RJD ने तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) समेत अपने पांच विधायकों की सीट भी बदल दी है.

    • Share this:
    पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) में सत्तापक्ष से ज्यादा विपक्षी दल राजद (RJD) को अपने विधायकों के खिलाफ एंटी इनकम्बेंसी का डर सता रहा है. यही वजह है कि सूबे की सत्ता पर काबिज BJP-JDU से कहीं ज्यादा RJD ने अपने मौजूदा विधायकों का टिकट काटा है. इस बार के चुनाव में RJD ने कुल 17 मौजूदा विधायकों के टिकट काटे हैं. इनमें से 6 सीटें तो सीट शेयरिंग में सहयोगी दलों के पास चली गई हैं, जबकि बाकी 11 सीटों पर मौजूदा विधायकों के टिकट काटकर नए चेहरे को RJD ने मैदान में उतारा है.

    इन नए चेहरों को मौका
    RJD ने जिन 11 विधायकों के टिकट काटकर नए चेहरे को मैदान में उतरा है, उनमें गोरेयाकोठी सीट से सत्यदेव प्रसाद सिंह, तरैया से मुद्रिका राय, गड़खा से मुनेश्वर चौधरी, सहरसा से अरुण यादव, सिमरी बख्तियारपुर से जफर आलम, मखदुमपुर से सूबेदार दास, केसरिया से डॉ. राजेश कुमार, बरौली से नेमतुल्लाह, हरिसिद्धि से राजेंद्र कुमार, संदेश से अरुण कुमार और अतरी सीट से कुंती देवी का टिकट है. इन जगहों से राजद ने नए चेहरे मैदान में उतारे हैं, इसके अलावा ओबरा सीट से बिजेंदर प्रसाद और अरवल सीट से रविंद्र सिंह का टिकट काट दिया है. यहां यह भी बताते चलें कि सीट शेयरिंग में 6 सीटें लेफ्ट के खाते में गई हैं.

    6 सीटें लेफ्ट को दीं
    RJD की छह सीटें महागठबंधन में वामपंथी दलों को दे दी गई हैं. इस कारण आरा से सिटिंग विधायक अनवर आलम और काराकाट सीट के सिटिंग विधायक संजय कुमार की सीट माले के खाते में चली गई. वहीं गुलाब यादव की झंझारपुर सीट RJD ने CPI को दे दी है, जबकि तेघड़ा से विधायक वीरेंद्र कुमार JDU में चले गए हैं जिसके चलते यह सीट भी CPI को दे दी है. पालीगंज के विधायक जयवर्धन यादव भी JDU में चले गए हैं इसलिए RJD ने ये सीट माले को दे दी है. RJD ने अपने पांच मौजूदा विधायकों की सीट बदल दी है, जिनमें पूर्व मंत्री तेजप्रताप यादव को महुआ के बदले हसनपुर में उतारा गया है. भोला यादव को बहादुरपुर से हटाकर हायाघाट सीट से उम्मीदवार बनाया गया. पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम को राजापाकर से हटाकर पातेपुर सीट से मैदान में उतारा है. यदुवंश यादव को पिपरा सीट के बदले निर्मली सीट दी गई है. अब्दुल बारी सिद्दीकी को अलीनगर के बदले केवटी से चुनाव मैदान में उतारा है.



    JDU ने 10 विधायकों के टिकट काटे
    NDA सीट शेयरिंग के चलते JDU को अपने 10 मौजूदा विधायकों के टिकट काटने पड़े हैं, क्योंकि वह सीटें सहयोगी दलों को देनी पड़ी है. बाबूबरही सीट से कपिलदेव कामत, फुलपरास सीट से गुलजार देवी, बेनीपुर सीट से सुनील कुमार चौधरी, जीरादेई सीट से रमेश सिंह कुशवाहा, वैशाली सीट से राजकिशोर सिंह, सुल्तानगंज सीट से सुबोध राय, अमरपुर सीट से जनार्दन मांझी, राजगीर सीट से रवि ज्योति कुमार, डुमरांव सीट से ददन पहलवान और एकमा सीट से मनोरंजन सिंह उर्फ धूमल सिंह के टिकट काट दिए हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज