JDU नेता बोले- लोकसभा परिणाम के बाद कुछ अच्छा नहीं हो रहा

JDU नेता ने अपने ट्वीट में लिखा, राजनीतिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो लोक सभा परिणाम के बाद बिहार में कुछ अच्छा नहीं हो रहा. पहले सांकेतिक भागीदारी वो भी नामंज़ूर. फिर चमकी का रौद्र रूप. इसके बाद सूखे की आशंका और अब बाढ़ का प्रकोप.

News18 Bihar
Updated: July 16, 2019, 3:34 PM IST
JDU नेता बोले- लोकसभा परिणाम के बाद कुछ अच्छा नहीं हो रहा
बिहार के जेडीयू नेता ने बीजेपी-जेडीयू के रिश्तों को लेकर तंज कसा है (मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की फाइल तस्वीर)
News18 Bihar
Updated: July 16, 2019, 3:34 PM IST
बिहार में बीजेपी-जेडीयू के बीच अंदरुनी खींचतान की खबरें तो अक्सर आती रहती हैं, लेकिन जब नेताओं के बयान आने लगते हैं तो दिलचस्प किस्से बननने शुरू हो जाते हैं. यह और रोचक तब हो जाता है जब कोई नेता अपनी ही पार्टी की आलोचना करता हो. मंगलवार को जेडीयू के नेता के एक बयान ने सियासी हलकों में चर्चाओं का बाजार गर्म कर दिया. इस बयान के बाद एक बार फिर दोनों ही दलों के तालमेल को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं.

जेडीयू के पूर्व प्रवक्ता अजय आलोक ने अपने ट्वीट में लिखा, राजनीतिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो लोक सभा परिणाम के बाद बिहार में कुछ अच्छा नहीं हो रहा 1.सांकेतिक भागीदारी वो भी नामंज़ूर 2.चमकी का रूद्र रूप 3.सूखे की आशंका 4.अब बाढ़ का प्रकोप. इस कठिन परिस्थिति में सब एकजुट हो जाएं बिहार हित में. राजनीति बाद में भी हो सकती है, मदद करें सब.



बता दें कि डॉ अजय आलोक ने इससे पहले भी बिहार में हर साल आती बाढ़ के लिए सांसदों से पहल करने का आह्वान किया था. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, सारे बिहार के सांसद लोक सभा या राज्य सभा सब मिल के नरेंद्र जी के पास जाएंऔर नेपाल पे हाई डैम की स्वीकृति ले. आज की तारीख़ में ये कार्य सिर्फ़ PM ही कर  सकते हैं . बिहार के लिए इससे ज़रूरी कुछ नहीं हैं. अगर MP लोग इतना भी नहीं कर सकते तो इस्तीफ़ा दे सब के सब..
Loading...




ममता बनर्जी पर किया था ट्वीट
बता दें कि अजय आलोक ने बीते जून महीने में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को निशाने पर लेते हुए लिखा था कि वह बंगाल को मिनी पाकिस्तान बना रही हैं. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी अपने राज्‍य में मिनी पाकिस्‍तान बना रहीं हैं. ममता को वहां मिनी पाकिस्‍तान बनने रोकना चाहिए. वहां से बिहारियों को भगाया जा रहा है. लगातार हत्‍याओं का दौर भी चल रहा है.

प्रवक्ता पद से दिया था इस्तीफा
इसपर जेडीयू नेतृत्व (नीतीश कुमार) की नाराजगी के बाद उन्होंने प्रवक्ता के पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद से अजय आलोक लगातार कुछ न कुछ मुद्दों को लेकर अपनी ही पार्टी जेडीयू पर तंज कसने पर बाज नहीं आ रहे हैं. 24 जून को उन्होंने एक और ट्वीट किया जिसमें संविधान सशोधन कर सेक्यूलर शब्द जोड़ने के लिए कांग्रेस को निशाने पर लिया था, जो जेडीयू के आधिकारिक स्टैंड से अलग है.

ये भी पढ़ें- 


बिहार: बाढ़ के पानी में डूबने से पांच बच्चों की मौत, मुजफ्फरपुर में भी तीन लापता




बिहार: बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से सांसद-विधायक क्यों हैं लापता ?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 16, 2019, 3:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...