Bihar Election 2020: अशोक चौधरी ने श्याम रजक को बताया मंदबुद्धि, पूर्व मंत्री ने किया पलटवार
Patna News in Hindi

Bihar Election 2020: अशोक चौधरी ने श्याम रजक को बताया मंदबुद्धि, पूर्व मंत्री ने किया पलटवार
श्याम रजक के साथ अशोक चौधरी (फाइल फोटो)

Bihar Election: जेडीयू (JDU) से निकाले जाने के बाद श्याम रजक (Shyam Rajak) ने 11 साल के लंबे अंतराल पर अपने पुराने घर यानी राजद (RJD) में वापसी की है. सोमवार को उन्होंने तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के समक्ष राजद ज्वाइन किया था.

  • Share this:
पटना. बिहार के पूर्व मंत्री श्याम रजक (Shyam Rajak) के जेडीयू छोड़ने के बाद लगातार हो रही सियासी बयानबाजी ने बिहार की राजनीति को गरमा दिया है. श्याम रजक ने जेडीयू (JDU) छोड़कर आरजेडी में जाते ही नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर हमला करते हुए कहा था कि वह सबसे बड़े दलित विरोधी हैं. श्याम रजक के इस बयान के बाद जदयू नेता और भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने न केवल सीएम का बचाव किया, बल्कि श्याम रजक को मंदबुद्धि छात्र भी बता दिया.

अशोक चौधरी ने कहा कि श्याम रजक ऐसे छात्र रहे हैं, जिन्हें नीतीश कुमार को समझने में 11 साल लग गए. किसी भी छात्र को सिलेबस समझने में इतने साल नहीं लगते. आरजेडी से छोड़कर जब जेडीयू में आए थे, उस समय से अब तक नीतीश कुमार उनके सबसे बड़े हितैषी थे, लेकिन आरजेडी में जाते ही नीतीश कुमार दलित विरोधी हो गए. श्याम रजक पर हमला करते हुए अशोक चौधरी ने कहा कि मंदबुद्धि छात्र से यही उम्मीद की जा सकती है.

'दलितों के सबसे बड़े हितैषी हैं नीतीश'
अशोक चौधरी ने बताया कि आजादी के बाद देश में सबसे बड़े दलितों के हितैषी नीतीश कुमार रहे हैं. बिहार में दलितों के लिए न तो अलग से कोई विभाग था और ना ही कोई बड़ा बजट. दलितों के लिए 40 करोड़ के बजट को बढ़ाकर 3000 करोड़ तक पहुंचाया. सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रहे दलित छात्रों को आर्थिक मदद देश में कोई राज्य नहीं करता. बिहार ऐसा इकलौता राज्य है जो दलित छात्रों को आर्थिक मदद देता है.
श्याम रजक का पलटवार


जदयू नेता अशोक चौधरी के हमले के बाद श्याम रजक ने जवाब देते हुए कहा कि अशोक चौधरी का संस्कार ही ऐसा है. श्याम रजक ने अशोक चौधरी पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस से छोड़कर जदयू में आते समय कांग्रेस को समझने में उनको कितने साल लगे थे. अब जदयू में हैं तो जदयू को कांग्रेस से कम ही दिन में समझ जाएंगे. श्याम रजक ने कहा कि बिहार में न तो लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति अच्छी है, न ही दलितों की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading