नीतीश के मंत्री ने दी चुनौती - 'हिम्मत हो तो मानहानि का केस करें तेजस्वी', RJD ने कही ये बात
Patna News in Hindi

नीतीश के मंत्री ने दी चुनौती - 'हिम्मत हो तो मानहानि का केस करें तेजस्वी', RJD ने कही ये बात
मंत्री नीरज कुमार ने पूछा कि तेजप्रताप के साथ जिस तरुण यादव के नाम पर जमीन खरीदी गई, वह कौन हैं. लालू परिवार को ये बताया चाहिए

नीरज कुमार ने लालू परिवार (Lallu Family) के साथ साथ राष्ट्रीय जनता दल (RJD) से भी सवाल पूछा कि बताएं कि तरुण यादव कौन है, कहां है? इनके नाम से संपत्ति खरीदने का उद्देश्य क्या था?

  • Share this:
पटना. 'हिम्मत है तो करे तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) मानहानि का दावा. सांच को आंच क्या. जनता भी जान जाएगी सच्चाई क्या है.' ये चुनौती जेडीयू नेता व बिहार सरकार के सूचना जनसंपर्क मंत्री नीरज कुमार (Neeraj Kumar) ने बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को दी है. दरअसल, जेडीयू नेता ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर लालू परिवार पर नौकरी के बदले जमीन लिखवाए जाने में तेजप्रताप के साथ 'गुमनाम पुत्र' तरुण कुमार यादव (Tarun Kumar Yadav) के नाम जमीन रजिस्ट्री करवाए जाने का आरोप लालू यादव पर लगाया था. इस आरोप के बाद लालू परिवार ने नीरज कुमार पर राजद ने भी आरोपों की बौछार कर दी थी. अब जेडीयू नेता ने एक बार फिर से लालू परिवार (Lalu Family) पर हमला बोला है. उन्होंने अपने आरोपों को दोहराते हुए कहा है कि अगर मेरा आरोप गलत है तो तेजस्वी यादव को चाहिए कि हम पर मानहानि का मुकदमा दायर करें.

जेडीयू नेता ने पूछा सवाल
बता दें कि नीरज कुमार ने लालू परिवार के साथ साथ राष्ट्रीय जनता दल से भी सवाल पूछा कि बताएं कि तरुण यादव कौन है, कहां है? इनके नाम से संपत्ति खरीदने का उद्देश्य क्या था? और जैसा कि तेजस्वी यादव खुद के तरुण कुमार यादव होने का दावा करते हैं तो तेजप्रताप और तरुण कुमार यादव के नाम से 1993 में रजिस्ट्री करवाई गई. फुलवरिया की 2 संपत्तियों में से एक खाता नंबर-74, प्लॉट नंबर-955 का जिक्र तो 2015 विधानसभा के अपने चुनावी हलफनामे में करते हैं.  पर दूसरी जमीन जिसका भी खाता नंबर-74, प्लॉट नंबर-891 रकबा-6 कट्ठा है इसका जिक्र नहीं किया.

हलफामें की हकीकत पर रार
उन्होंने कहा कि यहां सवाल यह भी बनता है कि तरुण कुमार के नाम निबंधित जमीन को बिना संपत्ति हस्तांतरण हुए तेजस्वी यादव ने चुनावी हलफनामे में अपनी संपत्ति होने का जिक्र कैसे किया?


नीरज कुमार ने कहा कि इसमें सबसे मजेदार बात तो यह है कि तेजप्रताप ने भी अपने चुनावी हलफनामे में खाता नंबर-74, प्लॉट नंबर-955 का जिक्र किया, लेकिन तेजस्वी की तरह इन्होंने भी दूसरी जमीन जिसका भी खाता नंबर-74, प्लॉट नंबर-891 रकबा-6 कट्ठा है इसको छिपा लिया.

उन्होंने सवाल किया कि तेजप्रताप और तरुण यादव के नाबालिग रहते बिना गार्जियन के नाम रजिस्ट्री करवाई गई दोनों जमीन में से एक का जिक्र तो तेजप्रताप और तेजस्वी यादव अपने चुनावी हलफनामे में करते हैं और दूसरी को छिपा लेते हैं, आखिर क्यों ?

वहीं नीरज कुमार की चुनौती पर राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि घबराइए नही मंत्री जी, जनता सब देख रही है. लाख झूठे आरोप लगा लें सरकार आपकी, एजेंसी आपकी, किसने रोका है. समय पर जनता हर गलत आरोप का जवाब देगी.

ये भी पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading