DMCH को लेकर पी. चिदंबरम ने ऐसा क्या कह दिया कि जदयू हुआ आगबबूला, संजय झा ने दिया ये जवाब

DMCH को लेकर पी. चिदंबरम के बयान पर जदयू नेता संजय झा ने दिया बयान.

DMCH को लेकर पी. चिदंबरम के बयान पर जदयू नेता संजय झा ने दिया बयान.

Bihar Corona Politics: बिहार के दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल को लेकर पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम के बयान पर भड़का जदयू. मंत्री संजय झा ने कहा- थोथा चना, बाजे घना!

  • Share this:

पटना. बिहार में कोरोना रोकथाम को लेकर सरकार कई दावे कर रही है, वहीं विपक्ष लगातार बदइंतजामी के मुद्दे उठा रहा है. ताजा मामला पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम का है. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सवाल उठाया. इससे जदयू आगबबूला हो गया है. नीतीश सरकार के मंत्री और जेडीयू के नेता संजय झा ने चिदंबरम के बयान पर करारा हमला किया है.

पी. चिदंबरम ने एक चैनल की खबर का हवाला देते हुए सवाल उठाया कि सीएम नीतीश को 15 साल हो गए, क्या वे दरभंगा कभी गए और क्या दरभंगा मेडिकल कॉलेज के हाल के बारे में पता भी है. चिदंबरम ने इसको लेकर ट्वीट किया, जिसके बाद बिहार की सियासत गर्मा गई है. जल संसाधन मंत्री संजय झा ने कांग्रेस नेता के ट्वीट पर हमला करते हुए एक के बाद एक 7 ट्वीट कर डाले.

संजय झा ने कहा- थोथा चना, बाजे घना

कांग्रेस नेता के सवाल के बाद जेडीयू की ओर से मोर्चा संभालते हुए मंत्री संजय झा ने कहा कि पी. चिदंबरम जैसे नेता का जमीन से कितना लगाव है, इस पर जो भी संदेह था, वो इस ट्वीट के बाद दूर हो गया. चिदंबरम जैसे नेता की टीवी पर भ्रामक छवि और राजनीतिक प्रवृत्ति ही आज कांग्रेस के पतन का कारण है. बिहार नीतीश कुमार के हाथों में पूरी तरह सुरक्षित है. कहावत का इस्तेमाल करते हुए संजय झा ने कहा कि थोथा चना, बाजे घना.
जेडीयू ने नीतीश कुमार का किया बचाव

जेडीयू के मंत्री संजय झा ने चिदंबरम को जवाबी ट्वीट कर कहा कि नीतीश कुमार जमीन से जुड़े जन नेता हैं, ना कि चिदंबरम की तरह कुर्सी से चिपकने वाले. नीतीश कुमार न सिर्फ दरभंगा गए हैं, बल्कि आज एविएशन की दुनिया के मैप पर चमक रहे हैं. संजय झा ने DMCH के बारे में बताया कि दरभंगा मेडिकल कॉलेज का एक स्टेट ऑफ आर्ट बिल्डिंग है, जहां कोविड मरीजों का बेहतर इलाज किया जा रहा है. नीतीश कुमार दरभंगा के साथ-साथ पूरे बिहार के अस्पतालों के इलाज की व्यवस्थाओं की खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं. चिदंबरम को गंदी राजनीति करने से पहले होमवर्क कर लेना चाहिए था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज