होम /न्यूज /बिहार /

JDU MLC देवेश चंद्र ठाकुर होंगे बिहार विधान परिषद के सभापति, अवध बिहारी चौधरी बनेंगे स्पीकर: सूत्र

JDU MLC देवेश चंद्र ठाकुर होंगे बिहार विधान परिषद के सभापति, अवध बिहारी चौधरी बनेंगे स्पीकर: सूत्र

बिहार विधान परिषद के सभापति और बिहार विधानसभा के अध्यक्ष के लिए नामों को फाइनल कर लेने की बात सामने आ रही है.

बिहार विधान परिषद के सभापति और बिहार विधानसभा के अध्यक्ष के लिए नामों को फाइनल कर लेने की बात सामने आ रही है.

Bihar News: बिहार विधान परिषद के सभापति और बिहार विधानसभा के अध्यक्ष के लिए नामों को फाइनल कर लेने की बात सामने आ रही है. सूत्रों के हवाले से जो बड़ी खबर सामने आ रही उसके अनुसार जेडीयू एमएलसी देवेश चंद्र ठाकुर को बिहार विधान परिषद का सभापति बनाया जाएगा. वह फिलहाल देवेश चंद्र ठाकुर बिहार विधानपरिषद में जेडीयू के उपनेता हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. इस वक्त बिहार की सियासत से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है, जहां बिहार विधान परिषद के सभापति और बिहार विधानसभा के अध्यक्ष के लिए नामों को फाइनल कर लेने की बात सामने आ रही है. सूत्रों के हवाले से जो बड़ी खबर सामने आ रही उसके अनुसार जेडीयू एमएलसी देवेश चंद्र ठाकुर को बिहार विधान परिषद का सभापति बनाया जा सकता है. वह फिलहाल देवेश चंद्र ठाकुर बिहार विधानपरिषद में जेडीयू के उपनेता हैं.

वहीं बिहार विधानसभा अध्यक्ष आरजेडी कोटे से होगा. जबकि बिहार विधानपरिषद में सभापति जेडीयू कोटे से होगा.  वहीं सूत्रों के मुताबिक़ आरजेडी विधायक अवध बिहारी चौधरी बिहार विधानसभा के अध्यक्ष बनाया जा सकता है. इसको लेकर तैयारी भी पूरी हो चुकी है.

सूत्रों के अनुसार अवध बिहारी चौधरी इस बार स्पीकर के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं. वह लालू प्रसाद यादव के समय से ही आरजेडी के साथ हैं. उनको स्पीकर बनाने के लिए राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की ओर से भी सहमति मिलने की बात कही जा रही है.

बता दें, बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद स्पीकर पद आरजेडी के खाते में जाना तय माना जा रहा है. मंत्रिमंडल विस्तार के बाद अब जल्द ही स्पीकर चुनाव की प्रक्रिया को भी पूरा कर लिया जाएगा. फिलहाल बीजेपी कोटे से विजय सिन्हा विधानसभा से स्पीकर बने हुये हैं. लेकिन, बिहार में आरजेडी-जेडीयू की सरकार बनते ही अब स्पीकर का पद आरजेडी के खाते में चला जाएगा.

Tags: Bihar News, Bihar politics

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर