लाइव टीवी

मोदी मंत्रिमंडल में शामिल होने को तैयार जेडीयू! जानिए आखिर क्या है पूरा माजरा?

News18 Bihar
Updated: October 30, 2019, 11:02 PM IST
मोदी मंत्रिमंडल में शामिल होने को तैयार जेडीयू! जानिए आखिर क्या है पूरा माजरा?
क्या कैबिनेट में शामिल होने के मूड में है JDU

बिहार की सियासत (Bihar Politics) में एक सवाल फिर से चर्चा में आ गया है कि क्या जेडीयू (JDU) के सांसद मोदी सरकार (Narendra Modi Government) में मंत्री बनेंगे?

  • Share this:
अमितेश
पटना. बिहार की सियासत (Bihar Politics) में एक सवाल फिर से चर्चा में आ गया है कि क्या जेडीयू (JDU) के सांसद मोदी सरकार (Narendra Modi Government) में मंत्री बनेंगे? यानी क्या जेडीयू अब मोदी मंत्रिमंडल का हिस्सा बनेगी! इस बात की संभावना पहले से चल रही थी. लेकिन, जेडीयू के दो बड़े नेताओं के बयान ने इस पर पार्टी की तरफ से सकारात्मक संकेत दे दिए हैं.

जेडीयू को उचित भागीदारी मिलती है तो होगी सरकार में शामिल
जेडीयू की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए पार्टी के प्रधान महासचिव के.सी. त्यागी ने साफ कर दिया कि अगर सही अनुपात में प्रतिनिधित्व मिलता है तो जेडीयू केंद्र की सरकार में शामिल होने को तैयार है. इसके बाद जेडीयू की तरफ से दूसरा बयान आया पार्टी के दूसरे बड़े नेता और महासचिव पवन वर्मा का. पवन वर्मा ने भी साफ-साफ शब्दों में कहा कि जेडीयू को उचित भागीदारी मिलता है तो केंद्र की सरकार में शामिल होने के लिए पार्टी और हमारे अध्यक्ष नीतीश कुमार जरूर अमल करेंगे.

उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिलने से नाराज थे नीतीश कुमार
दरअसल, जेडीयू की तरफ से मई महीने में भी मोदी सरकार के शपथ ग्रहण के वक्त सरकार में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे थे. लेकिन, उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिलने और केवल सांकेतिक प्रतिनिधित्व दिए जाने की बात जेडीयू को नागवार गुजरी. बीजेपी के इस प्रस्ताव को जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने अस्वीकार कर दिया था.

अमित शाह के बयान के बाद बदला JDU का मूड
Loading...

उसके बाद पिछले 6 महीने से कई तरह की तल्खी देखने को मिल रही थी. लेकिन, बीजेपी और जेडीयू नेताओं के बीच की बयानबाजी के बीच जब अमित शाह का बयान आया तो फिर जेडीयू की बाछें खिल गई हैं. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने न्यूज 18 को दिए साक्षात्कार में साफ कर दिया था कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही बिहार में एनडीए 2020 के विधानसभा चुनाव मैदान में उतरेगा.

इसके बाद से ही जेडीयू की तरफ से गठबंधन में सबकुछ ठीक-ठाक होने के संकेत दिए जा रहे हैं. नीतीश कुमार के दूसरी बार राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी की तरफ से आ रहा यह बयान इसी का नतीजा दिख रहा है.

सहयोगी से बारगेनिंग में जुटी है बीजेपी
जेडीयू की तरफ से आए बयान का एक और पहलू भी दिख रहा है. अभी हाल ही में आए चुनाव परिणामों में महाराष्ट्र और हरियाणा में बीजेपी का ग्राफ पहले की तुलना मे थोड़ा कम हुआ है. हरियाणा में पार्टी ने जेजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाई और वहां सहयोगी पार्टी को डिप्टी सीएम समेत अच्छा प्रतिनिधित्व भी दिया. दूसरी तरफ, महाराष्ट्र में भी शिवसेना के साथ टफ बारगेनिंग करनी पड़ रही है. ऐसे में माना जा रहा है कि अगर महाराष्ट्र में शिवसेना मुख्यमंत्री की कुर्सी बीजेपी के लिए छोड़ती है तो दिल्ली में उसे सरकार में हिस्सेदारी और देनी पड़ेगी.

फिलहाल, इसी हालात को भांपकर जेडीयू भी आगे बढ़ रही है. जेडीयू को लगता है कि अगर शिवसेना सरीखे सहयोगी की हिस्सेदारी केंद्र की सरकार में बढ़ती है तो उसके पास भी बीजेपी से दावा करने का मौका होगा. लिहाजा, पार्टी ने अपनी तरफ से उचित प्रतिनिधित्व के आधार पर मंत्रिमंडल में शामिल होने की बात कही जाने लगी है.

ये भी पढ़ें: 

लालू पर बनी फिल्म 'लालटेन' में राबड़ी देवी के किरदार में नजर आएंगी ये एक्ट्रेस

पटना में चाकू मारकर युवक की हत्या, बचाने आए भाई पर भी किया हमला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 6:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...