Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Bihar Election: BJP के बाद JDU ने भी जारी किया अपना चुनावी घोषणा पत्र, जानें क्‍या है खास

    जेडीयू ने घोषणा पत्र में सात निश्चय पार्ट 2 पर फोकस किया है.
    जेडीयू ने घोषणा पत्र में सात निश्चय पार्ट 2 पर फोकस किया है.

    बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) के लिए जेडीयू (JDU) ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है. बिहार में इस बार के चुनाव में बीजेपी (BJP) और जेडीयू साथ-साथ हैं.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 22, 2020, 6:25 PM IST
    • Share this:
    पटना. बिहार विधानसभा चुनाव 2020 (Bihar Assembly Election 2020) के पहले चरण में महज 6 दिन का वक्त रह गया है ऐसे में सभी दलों के नेता अपनी पार्टी द्वारा बनाए गए घोषणा पत्र (Manifesto) को जारी कर रहे हैं. इस बीच, एनडीए (NDA) के घटक दल जेडीयू (JDU) ने भी अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया है. जनता दल यूनाइटेड का चुनावी मेनिफेस्टो जारी करने के समय पार्टी के कई नेता मौजूद रहे. इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह और कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी ने घोषणा पत्र (Manifesto) जारी करते हुए कहा कि हम जनता के सामने सिर्फ सात निश्चय पेश कर रहे हैं, जिसमें 'युवा शक्ति बिहार की तरक्‍की' पर खास फोकस रहेगा.

    जेडीयू का दावा, आरजेडी पर तंज
    बिहार जेडीयू के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने घोषणा पत्र जारी करने के बाद कहा, 'सीएम नीतीश कुमार की एक खासियत है कि अगर वे कोई वादा करते हैं तो उसे पूरा करते हैं, इसलिए सात निश्चय की बात की है. हमने दूसरी बार सात निश्चय की बात की है. साथ ही कहा कि आरजेडी द्वारा रोजगार को लेकर धोखा देने की बात की जा रही है. इन नौकरियों के लिए 58 हजार करोड़ रुपए कहां से आएंगे? बिहार की वित्तीय स्थिति जाने बगैर ही इस तरह के वादे कर दिए गए. न अनुभव है, न वित्तीय स्थिति की जानकारी है और न ही उन्हें यह पता है कि वादा पूरा नहीं करने का परिणाम क्या होता है. जबकि इस दौरान अशोक चौधरी ने आरजेडी पर तंज कसते हुए कहा कि उन्‍होंने जो योजनाएं बनाई हैं बिहार सरकार को 5 लाख करोड़ रुपये की जरूरत होगी. युवाओं को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं. वे बताएं कैसे 5 लाख करोड़ रुपये का बिहार बनाएंगे. चौधरी ने कहा कि बिहार का बजट 2.11 लाख करोड़ रुपये का है जबकि राजद के शासनकाल में यह 24 हजार करोड़ रुपये का था. अब वे (राजद) बतायें कि पांच लाख करोड़ रुपया कहां से आयेगा ? यही नहीं, जेडीयू नेता अजय आलोक ने कहा कि आरजेडी जमीन लेकर नौकरी देती है.





    जेडीयू का घोषणा पत्र( पूरे होते वादे,अब है नये इरादे...)
    1.युवा शक्ति बिहार की प्रगति
    2. सशक्त महिला,सक्षम महिला
    3. हर खेत में सिंचाई का पानी
    4. स्वच्छ गांव,समृद्ध गांव
    5. स्वच्छ शहर, विकसित शहर
    6. सुलभ संपर्कता
    7. सबके लिए स्वास्थ्य सुविधा

    इससे पहले भाजपा ने चुनावी घोषणा पत्र के 11 संकल्प जारी किए थे, जो कि इस प्रकार हैं
    >>कोरोना का निशुल्क टीकाकरण
    >>3 लाख नए शिक्षकों की नियुक्ति
    >>आईटी हब के रूप में बिहार का विकास
    >>5 साल में 5 लाख से अधिक रोजगार के अवसर
    >>1 करोड़ महिलाओं को स्वावलंबी बनाने का प्लान
    >>1 लाख लोगों को स्वास्थ्य विभाग में नौकरी
    >>दरभंगा में एम्स का संचालन 2024 तक
    >>दलहन की भी खरीद एमएसपी की दरों पर
    >>30 लाख लोगों को साल 2022 तक पक्के मकान
    >>हिंदी भाषा में मेडिकल, इंजीनियरिंग की शिक्षा
    >>दूध और मछली उत्पादन को बढ़ावा देने की योजना
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज