लाइव टीवी

CM नीतीश के 'बायकॉट' पर JDU का जवाब- भागने से काम नहीं चलेगा, इतने वर्षों से जीतकर क्या कर रहे हैं?

News18 Bihar
Updated: October 9, 2019, 10:09 AM IST
CM नीतीश के 'बायकॉट' पर JDU का जवाब- भागने से काम नहीं चलेगा, इतने वर्षों से जीतकर क्या कर रहे हैं?
रावण वध के दौरान सीएम नीतीश के मंच से बीजेपी नेताओं की दूरी से बिहार की सियासत गर्म हो गई है. (सीएम नीतीश कुमार की फाइल फोटो)

कांग्रेस ने कहा कि बीजेपी (BJP) ने खास रणनीति के तहत सीएम नीतीश कुमार का बायकॉट किया है. यह आदेश ऊपर के नेताओं से मिला होगा.

  • Share this:
पटना. राजधानी में हुए जलजमाव (Water logging) और इस पर बीजेपी-जेडीयू (BJP-JDU) नेताओं के बीच शुरू हुई बयानबाजियों के साइड इफेक्ट दिखने लगे हैं. मंगलवार को पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान (Gandhi Maidan) में रावण दहन के दौरान बीजेपी और जेडीयू के बीच तब और दूरी देखने को मिली जब मंच पर बीजेपी के कोई भी नेता मौजूद नहीं थे. यही नहीं इस पर तब और सियासत (Politics) शुरू हो गई जब जेडीयू ने इसे पलायनवादी नजरिया बताया और पार्टी के प्रवक्ता राजीव रंजन (Rajeev Ranjan) ने सवाल पूछ डाला कि बीजेपी नेता जनता को जवाब दे कि वे क्यों नहीं आए?

राजीव रंजन ने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा कि कोई भी बीजेपी नेता नहीं पंहुचा इसका जवाब भाजपा दे. जनता के सवाल से भागने से काम नहीं चलेगा. अगर वे नहीं पहुंचकर किसी और को कठघरे में खड़ा करना चाहते हैं तो जनता इन सब बातों को समझती है. जेडीयू प्रवक्ता ने कहा कि यह बीजेपी का पलायनवादी नजरिया है. उसको जनता के सवालों का सामना करना चाहिए कि इतने वर्षों से जीतकर क्या कर रहे हैं?

गिरिराज सिंह और नीतीश कुमार
गिरिराज सिंह ने बाढ़ के बहाने सीएम नीतीश कुमार को कठघरे में खड़ा करने की कोशिश की. (फाइल फोटो)


कांग्रेस ने भी बोला हमला

जेडीयू के सुर में सुर मिलाते हुए कांग्रेस ने भी बीजेपी पर सवाल खड़ा किया है. पार्टी के प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि बीजेपी ने खास रणनीति के तहत सीएम बायकॉट किया है. उन्होंने कहा कि डिप्टी सीएम के पटना में रहते हुए भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचना बड़ी बात है. यही नहीं मेयर से लेकर विधायकों ने भी दूरी बना ली. जाहिर है सीएम नीतीश के बायकॉट के लिए ऊपर से आदेश मिला होगा.

आरजेडी ने कहा- हिसाब याद रखते हैं पीएम मोदी
दूसरी ओर आरजेडी के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने भी इसे बीजेपी की विशेष रणनीति करार दिया है. उन्होंने कहा कि सुशील मोदी नहीं पहुचेंगे इसकी कल्पना नहीं की जा सकती. दरअसल, सीएम नीतीश की तरह पीएम नरेंद्र मोदी सारा हिसाब रखते हैं. लोकसभा में नीतीश की जरूरत थी, अब बीजेपी को जरूरत नहीं है.
Loading...

राजद नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि पीएम मोदी सीएम नीतीश के भोज को अब भी नहीं भूले हैं. (शिवानंद तिवारी की फाइल फोटो)


'बीजेपी का साथ छोड़ें सीएम नीतीश'
हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि भाजपा के नेता सीएम नीतीश कुमार को अपमानित कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अभी भी मौका है कि सीएम नीतीश भाजपा से नाता तोड़ लें वरना बीजेपी उन्हें कहीं का नहीं छोड़ेगी.

इनपुट- रवि एस नारायण

ये भी पढ़ें-


क्या बिहार की बाढ़ में डूब जाएगा BJP-JDU गठबंधन?




डीजे बजाने को लेकर हुए विवाद में पिट गए बिहार के पूर्व मंत्री के दामाद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 9:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...