अपना शहर चुनें

States

बिहार: JDU अध्यक्ष का दावा- महागठबंधन में जल्द होगी बड़ी टूट, मांझी का RJD पर तीखा तंज

जनता दल यूनाइटेड के बिहार अध्यक्ष उमेश कुशवाहा का बड़ा दावा.
जनता दल यूनाइटेड के बिहार अध्यक्ष उमेश कुशवाहा का बड़ा दावा.

सबसे पहले राजद (RJD) ने दावा किया था कि सत्ताधारी जदयू (JDU) के कई विधायक टूटने के लिए तैयार हैं. इसी बात पर भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव (Bhupendra Yadav) ने भी महागठबंधन (Grand Alliance) में टूट का दावा किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2021, 10:53 PM IST
  • Share this:
पटना. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव (Bhupendra Yadav) के बाद जनता दल यूनाइटेड (JDU) के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा (Umesh Kushwaha) ने बड़ा दावा करते हुए कहा है कि महागठबंधन में बड़ी टूट होने वाली है. उन्होंने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा कि खरमास खत्म हो गया है और बहुत जल्द आपको महागठबंधन में टूट दिखेगी. बस वक़्त का इंतज़ार कीजिए NDA के नेता इस मुहिम में लगे हुए हैं.

बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने राष्ट्रीय जनता दल के इस दावे पर तंज कसते हुए ट्वीट किया है कि खरमास के बाद एनडीए में टूट होने वाली है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, आज ही न 14 तारीख है जी? ऊ राजद वाला बड़का नेता लोग कहा था कि 14 जनवरी को जेडीयू का 17 गो विधायक लेकर महागठबंधन के सरकार बनाएंगे. पता कीजिए तो कि ऊ लोग ख़ुद ही राजद में है कि निकल लिया.'


बता दें कि तीन दिन पहले बिहार भाजपा के प्रभारी भूपेंद्र यादव ने कहा था कि खरमास के बाद राजद में टूट तय है. राजद में परिवारवाद के खिलाफ पार्टी के कार्यकर्ता और नेता आवाज उठाने लगे हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में एनडीए पूरी तरह से एकजुट है और आगामी पांच वर्षों तक नीतीश कुमार के नेतृत्व में भाजपा बिहार के विकास को आगे बढ़ाती रहेगी.





वहीं, भूपेंद्र यादव के बयान का जेडीयू के केसी त्यागी व ललन सिंह जैसे सीनियर नेताओं ने समर्थन करते हुए कहा था, जिस दिन भूपेंद्र यादव चाह लेंगे उसी दिन राजद का भाजपा में विलय हो जाएगा. ललन सिंह ने कहा कि टूटने की बात तो कम है, यदि भूपेंद्र यादव वाकई चाह लें तो राजद का भाजपा में विलय हो जाएगा.

बता दें कि सबसे पहले राजद ने कहा था कि सत्ताधारी जदयू के कई विधायक टूटने के लिए तैयार हैं. इसके बाद से ही बिहार में सियासी बवाल जारी है और दोनों ही गठबंधनों की ओर से एक दूसरे खेमे में टूट की बातें लगातार कही जा रही हैं. हालांकि, किनके दावों में कितना दम है आने वाले चंद दिनों में जरूर साफ हो जाएगा क्योंकि खरमास बीत चुका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज