विरोधियों को जवाब देने के लिए जेडीयू चलाएगी 'ऑपरेशन फ्लश'

विरोधियों को उनके ही सुर में जबाव देने के लिए जेडीयू ने ऑपरेशन फ़्लश शुरू किया है. इस ऑपरेशन के तहत जेडीयू के तमाम प्रवक्ताओं को तमाम जिलों में तैनात किया है, जो लोकल जेडीयू लीडर के साथ मिलकर विरोधियों के कमज़ोरी को उजागर करेंगे

News18 Bihar
Updated: September 10, 2018, 11:25 AM IST
News18 Bihar
Updated: September 10, 2018, 11:25 AM IST
सीएम नीतीश कुमार के सुशासन पर विरोधियों के लगातार हमलों से निपटने के लिए जेडीयू ने ऑपरेशन फ़्लश के सहारे हमला बोलने की तैयारी शुरू की है. इस ऑपरेशन को सफल बनाने के लिए जेडीयू के तमाम प्रवक्ताओं को मिशन पर लगाया गया है. जेडीयू के मिशन फ़्लश को घटक दल बीजेपी ने भी समर्थन किया है. हालांकि विरोधियों ने ऑपरेशन पर भी सवाल उठा दिया है.

यह भी पढ़ें-RJD ने कालीदास और तुलसीदास से की तेजस्वी की तुलना

दरअसल, नीतीश कुमार पर इन दिनों लगातार विरोधियों के निशाने पर हैं और शायद ही ऐसा कोई दिन होता हो जब वो विरोधियों के निशाने पर न होते हों. मसला, चाहे लॉ एंड ऑर्डर का हो अथवा पेट्रोल और डीज़ल के कीमतों में लगातार हो रही वृद्धि का, विरोधी लगातर उन पर हमलावर हैं. इतना ही नहीं, विरोधियों ने उनके बीमार होने पर भी निशाना साधना शुरू कर दिया है.

यह भी पढ़ें-JDU का तेजस्वी पर हमला, आठवीं पास होने पर भी होता है शक

यही कारण है कि विरोधियों को उनके ही सुर में जबाव देने के लिए जेडीयू ने ऑपरेशन फ़्लश शुरू किया है. इस ऑपरेशन के तहत जेडीयू के तमाम प्रवक्ताओं को तमाम जिलों में तैनात किया है, जो लोकल जेडीयू लीडर के साथ मिलकर विरोधियों के कमज़ोरी को उजागर करेंगे. साथ ही, नीतीश कुमार के  विकास के कार्यों को जनता तक पहुंचाएंगे.

यह भी पढ़ें-नीतीश कुमार स्वस्थ, तेजस्वी यादव ने की थी मेडिकल बुलेटिन की मांग

वहीं, जेडीयू के ऑपरेशन फ़्लश पर बड़ा हमला करते हुए बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष कोक़ब क़ादरी का कहना है कि नीतीश का इक़बाल ख़त्म हो गई है, इसलिए अब ऑपरेशन फ़्लश चलाएं या फिर कुछ और, क्योंकि बिहार की भाग्य का फैसला तो अब जनता ही तय करेगी.
Loading...
(रिपोर्ट-आनंद अमृतराज, पटना)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर