• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Bihar Politics: अब मांझी ने बढ़ा दी नीतीश की टेंशन! कहा- केंद्र नहीं, जातिगत जनगणना करवाएं बिहार CM

Bihar Politics: अब मांझी ने बढ़ा दी नीतीश की टेंशन! कहा- केंद्र नहीं, जातिगत जनगणना करवाएं बिहार CM

जातिगत जनगणना पर जीतन राम मांझी के बयान से सीएम नीतीश कुमार असहज हो सकते हैं.

जातिगत जनगणना पर जीतन राम मांझी के बयान से सीएम नीतीश कुमार असहज हो सकते हैं.

Caste Census in Bihar: जीतन राम मांझी ने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा, जातीय जनगणना की हमारी मांग बहुत पुरानी है. ओबीसी विधेयक संसद में पास होने के बाद अब राज्य सरकारें भी जातिगत जनगणना करा सकती हैं. इसलिए सीएम नीतीश कुमार बिहार में जातीय जनगणना करवाने की पहल करें.

  • Share this:

पटना. जातिगत जनगणना  को लेकर बिहार में सियासत (Politics on Caste Census in Bihar) थमने का नाम नहीं ले रही है. अब पूर्व सीएम जीतन राम मांझी (Jeetan Ram Manjhi) ने ऐसी बात कह दी है कि सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की टेंशन बढ़ सकती है. जीतन राम मांझी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की ओर लगभग हरी झंडी मिल चुकी है इसलिए अब सीएम नीतीश कुमार को बिहार में जातीय जनगणना के लिए पहल करनी चाहिए. मांझी ने ओबीसी विधेयक संसद से पास करवाने पर पीएम मोदी को धन्यवाद भी दिया.

जीतन राम मांझी ने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा, जातीय जनगणना की हमारी मांग बहुत पुरानी है. ओबीसी विधेयक संसद में पास कराने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देता हूं. अब राज्य सरकारें भी जातिगत जनगणना करा सकती है. इसलिए सीएम नीतीश कुमार बिहार में जातीय जनगणना कराने के लिए पहल करें. अब केंद्र के द्वरा जातीय जनगणना कराने का कोई मतलब नहीं है. अब केंद्र ने राज्यों को ही यह अधिकार दे दिया है.

बता दें कि इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था रि उन्होंने 4 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को जातीय जनगणना करवाने के लिए पत्र लिखा है, पर उसका कोई जवाब नहीं आया है. हम चाहते हैं कि जाति आधारित जनगणना हो, यह हमारी पुरानी मांग है. नीतीश ने कहा कि जातिगत जनगणना एक बार भी करा देंगे तो एक-एक चीज की जानकारी मिल जाएगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि इसका संबंध राजनीति से नहीं, बल्कि सामाजिक है. हमलोग चाहते हैं कि केंद्र सरकार ही जातिगत जनगणना कराए. यदि राज्य के द्वारा जातिगत जनगणना कराने की बात आएगी तो हमलोग उस पर बातचीत करेंगे. कुछ राज्यों ने पहले भी जातिगत जनगणना कराया है. जातिगत जनगणना एक बार करा देना देश के हित में है. यह सबके हित में है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समय देंगे तो उनसे मिलकर जरूर अपनी बात कहेंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज