रूठे नीतीश पर डोरे डालने में जुटे मांझी! 24 घंटे के दौरान आज दूसरी बार होगी मुलाकात

सोमवार को मांझी ने अपने आवास पर इफ्तार की पार्टी रखी है जिसमें सीएम नीतीश कुमार भी शिरकत करेेंगे

Amrendra Kumar | News18 Bihar
Updated: June 3, 2019, 11:51 AM IST
रूठे नीतीश पर डोरे डालने में जुटे मांझी! 24 घंटे के दौरान आज दूसरी बार होगी मुलाकात
जेडीयू की इफ्तार पार्टी में शामिल नीतीश-मांझी-पासवान
Amrendra Kumar
Amrendra Kumar | News18 Bihar
Updated: June 3, 2019, 11:51 AM IST
बिहार में इफ्तार के बहाने फिर से सियासी खिचड़ी पकने लगी है. एक दूसरे के धुर विरोधी कहे जाने वाले नीतीश-मांझी की मुलाकात और इसके बाद नीतीश-पासवान की मुलाकात ने सियासी गलियारे में हलचल तेज कर दी है और दल के बहाने दिलों के मिलने की खबर ने विपक्षियों को भी मुद्दा दे दिया है. रविवार की शाम हुई इस मुलाकात के बाद माना जा रहा है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दिल्ली से मिले दर्द को अब उनके विरोधी खासकर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी भी कम करने में जुट गए हैं.

मांझी की इफ्तार पार्टी में आएंगे नीतीश
24 घंटे के दौरान सोमवार को दूसरा मौका होगा जब नीतीश-मांझी की मुलाकात होगी. दरअसल सोमवार को मांझी ने अपने आवास पर इफ्तार की पार्टी रखी है जिसमें भाग लेने सीएम नीतीश कुमार भी आएंगे. इससे पहले रविवार को भी दोनों नेताओं की मुलाकात जेडीयू की इफ्तार पार्टी में हुई थी. नीतीश से मुलाकात को लेकर मांझी का बहाना भले ही इफ्तार हो लेकिन इसके सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं.

कांग्रेस नहीं है चिंतित

कांग्रेस इस मुलाकात को गंभीर नहीं मान रही है. पार्टी के प्रवक्ता प्रेमचंद्र मिश्रा ने इस मुलाकात को लेकर कहा कि मांझी जी हमारे साथ हैं और आगे भी बने रहेंगे. दरअसल भाजपा से आहत नीतीश कुमार का अचानक मंत्रिमंडल विस्तार करना और इफ्तार के बहाने मांझी से मेलजोल बढ़ाना भाजपा को फिलर भेजने के सिवा और कुछ भी नहीं है. मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस की नजर में बीजेपी-जेडीयू के बीच पड़ी गांठ हमारे लिए आनंद का विषय बन रही है.

गठबंधन के स्टैंड का पालन करने की जरूरत
नीतीश के साथ जीतनराम मांझी की मुलाकात पर राजद नेता शिवानंद तिवारी ने कहा कि मांझी जी बिहार के बड़े नेता हैं और वो सबको साथ लेकर चलना चाहते हैं. इफ्तार के बहाने कौन सी सियासत चल रही है ये पता नहीं, लेकिन गठबंधन के स्टैंड का सबको पालन करने की जरूरत है. फिर भी अगर कोई कहीं जाना चाहता है, तो भला कौन रोकेगा. तिवारी ने कहा कि वैसे भी इतनी बड़ी हार के बाद अब बचा ही क्या है.
Loading...

जेडीयू ने पूरे मामले में सधी हुई प्रतिक्रिया दी है. इफ्तार के बहाने नीतीश- मांझी की मुलाक़ात को जेडीयू ने शिष्टाचार मुलाक़ात बताया. जेडीयू नेता अजय आलोक ने कहा कि महागठबंधन को घबराने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि मांझी जी में हम लोगों के संस्कार हैं, आखिर हमसे ही तो अलग होकर मांझी बने हैं.

ये भी पढ़ें- बिहार:

LJP की इफ्तार पार्टी में दूर होगी BJP-JDU की तल्‍खी?

 सरकारी अस्पताल के ICU से चोरी हुआ तीन दिन का मासूम

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

इनपुट- अमित कुमार सिंह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 3, 2019, 10:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...