जेपी नड्डा की टीम का जल्द होगा गठन, बिहार और बंगाल को दी जाएगी तरजीह
Patna News in Hindi

जेपी नड्डा की टीम का जल्द होगा गठन, बिहार और बंगाल को दी जाएगी तरजीह
बिहार के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेणु देवी और राष्ट्रीय मंत्री रजनीश कुमार 2014 में अमित शाह की टीम में शामिल हुए थे. (फाइल फोटो)

बिहार विधानसभा चुनाव और बंगाल विधानसभा चुनावों के मद्देनजर बीजेपी अपनी रणनीति में बदलाव कर सकती है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा अपनी टीम का गठन (New Team Formed) कर सकते हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) और बंगाल में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) को देखते हुए बीजेपी अपनी राष्ट्रीय टीम का गठन कर सकती है. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (Jp nadda) इस महीने अपनी नई राष्ट्रीय टीम का ऐलान कर सकते हैं. माना जा रहा कि बीजेपी राष्ट्रीय टीम में इस बार कुछ एकदम नए चेहरों को जगह मिल सकती है. हालांकि, अमित शाह की टीम के ज्यादातर लोग भी नड्डा की टीम में बने रहेंगे. खासकर बिहार और बंगाल के नेताओं पर फोकस किया जाएगा.

बिहार विधानसभा चुनाव और बंगाल विधानसभा चुनावों के मद्देनजर बीजेपी अपनी रणनीति में बदलाव कर सकती है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  जेपी नड्डा अपनी टीम का गठन (New Team Formed) कर सकते हैं. माना ये जा रहा है इस टीम में बिहार और बंगाल के नेताओं को तरजीह दिया जाएगा. ताकि इसका फायदा इन दोनों राज्यों में मिल सके. बिहार बीजेपी के नेता इसे मानने को तो तैयार नहीं है कि टीम का गठन कब होगा.लेकिन वो यह जरूर मानते हैं उनके नेता और कार्यकर्ता बिना पद के भी चुनाव के लिए अक्सर तैयार रहते हैं. वैसे ये विशेषाधिकार जेपी नड्डा का मानते है.

राष्ट्रीय अध्यक्ष को विशेषाधिकार
बीजेपी विधायक नितिन नवीन कहते हैं कि केंद्रीय टीम का गठन जेपी नड्डा कर सकते हैं. जहां तक चुनाव की बात रही बीजेपी के हर कार्यकर्ता और नेता पूरे साल चुनाव के मोड में रहते हैं. जब भी चुनाव होगा सभी कार्यकर्ता और नेता चुनाव के लिए तैयार होंगे. वहीं, बीजेपी के प्रदेश महासचिव देवेश कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को टीम विस्तार का विशेषाधिकार है.
विपक्ष ने उठाये सवाल


कुछ महीनों के बाद बिहार विधानसभा के चुनाव हैं और उसके बाद अगले साल पश्चिम बंगाल विधानसभा के चुनाव होने हैं. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि इन दो राज्यों से ज्यादा लोगों को राष्ट्रीय कार्यकारिणी में जगह मिल सकती है. यह भी माना जा रहा है कि पुरानी टीम के 60-70 पर्सेंट लोग नहीं बदले जाएंगे. यानी अमित शाह ने जो राष्ट्रीय टीम बनाई थी उसके ज्यादातर लोग नड्डा की टीम में भी जगह पाएंगे. चुनाव के समय बीजेपी के टीम विस्तार पर बिहार के विपक्षी पार्टी हमलावर हो गई है. कांग्रेस नेता प्रेम चन्द्र मिश्रा कहते हैं कि बीजेपी को बताना चाहिए कि उन्होंने बिहार बंगाल में क्या विकास किया है. वहीं, आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी कहते हैं कि टीम के विस्तार से बीजेपी को कोई फायदा नहीं होने वाला है. क्योंकि इनकी कथनी और करनी में बहुत अंतर है.

कई राष्ट्रीय पदाधिकारी पिछले दो टर्म से हैं
बिहार के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेणु देवी और राष्ट्रीय मंत्री रजनीश कुमार 2014 में  अमित शाह की टीम में शामिल हुए थे. तब अब तक ये अपने पद पर बने हुए है. वहीं, यदि नई टीम की बात की जाए तो बिहार से युवा और पिछड़े पर ज्यादा फोकस करने की बात सामने आ रही है. हालांकि, कोरोना की वजह से पिछले तीन महीने से बीजेपी केंद्रीय टीम का विस्तार टलता रहा है. ऐसे अब सूत्र ये बता रहे हैं कि किसी भी दिन ये घोषणा हो जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading