Kisan Andolan: मानव शृंखला के आयोजन पर भाजपा-जदयू का तेजस्वी पर तीखा हमला, कहा- राजद की जिद दुर्भाग्यपूर्ण

बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी  (फाइल फोटो)

बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी (फाइल फोटो)

Kisan Protest: जदयू के विधान पार्षद नीरज कुमार (Neeraj Kumar) ने कहा कि तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) राजनीतिक मुद्दों पर मानव श्रृंखला बनाएंगे. हमें उम्मीद है कि लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) द्वारा अर्जित अवैध संपत्ति पर भी मानव श्रृंखला बनाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 9:06 AM IST
  • Share this:
पटना. केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों को रद्द करने, एमएसपी को कानूनी दर्जा देने और बिहार में एपीएमसी एक्ट लागू करने की मांग को लेकर महागठबंधन (Mahagathbandhan) ने 30 जनवरी को मानव श्रृंखला (Human Chain) बनाने की घोषणा की है. हालांकि इस मसले को लेकर बिहार में सियासत तेज हो गई है. जेडीयू और बीजेपी (JDU-BJP) ने एक साथ तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) को अपने निशाने पर लिया है. बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम व भाजपा के वर्तमान राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने कहा है कि जनता में अब कथित किसान संगठनों और उनके समर्थक दलों के प्रति काफी गुस्सा है. दिल्ली-जयपुर हाइवे को खाली कराया जा चुका है. कुछ संगठनों ने आंदोलन से किनारा कर लिया है. इसके बावजूद बिहार में मानव शृंखला बनाने की राजद की जिद दुर्भाग्यपूर्ण है. असली किसान एनडीए के साथ हैं.

बीजेपी प्रवक्ता प्रेमरंजन पटेल ने तेजस्वी पर किसानों को बरगलाने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि जब तेजस्वी की सरकार थी तो किसान दर-दर की ठोकरें खा रहे थे और फसलों की लूट हो रही थी. किसानों की हत्याएं हो रही थीं. इन्होंने कहा कि तेजस्वी के पिता बीमार हैं और वे उन्हें देखने की बजाय मानव श्रृंखला बना रहे हैं, लेकिन उनकी मानव श्रृंखला विफल होगी.

जदयू के विधान पार्षद नीरज कुमार ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार की जनता ने सामाजिक सरोकार के मुद्दों पर मानव श्रृंखला बनाकर विश्व कीर्तिमान बनाया है. अब तेजस्वी यादव राजनीतिक मुद्दों पर मानव श्रृंखला बनाएंगे. हमें उम्मीद है कि लालू प्रसाद यादव द्वारा अर्जित अवैध संपत्ति पर भी मानव श्रृंखला बनाएंगे.

उन्होंने आगे कहा पॉलिटिकल टूरिस्ट तेजस्वी यादव राजनीतिक मुद्दों पर मानव श्रृंखला बनाने जा रहे हैं पर यह बताइए कि उसे तिहाड़ तक न्यायिक प्रवास पर विराजमान राजद के रत्नों में प्रभार जेल में किसे सौंपा है. जेल में मानव श्रृंखला बनाने का दारोमदार किसका. पॉलिटिकल टूरिस्ट तेजस्वी यादव के कुछ राजनीतिक सलाहकार खाने में मानव श्रृंखला बनाने चले हैं तो उनका समर्थन प्राप्त किया कि नहीं.
वहीं, आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि किसान परेशान हैं इसलिए तेजस्वी ने किसानों के लिए आंदोलन का ऐलान किया है. तेजस्वी के इस एलान से सत्ता में बैठे लोग परेशान हैं. इन्होंने दावा किया कि कल की मानव श्रृंखला में जब गांव से शहर तक किसान व्यापक स्तर पर शामिल होंगे तब सत्ता में बैठे लोगों को एहसास होगा.

बता दें कि राजद के नेतृत्व में मानव शृंखला को सफल बनाने के उद्देश्य से आज पटना के 10 सर्कुलर रोड स्थित पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पर महागठबंधन के शीर्ष नेताओं की बैठक होने वाली है. इसमें देश मे चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में दिनांक 30 जनवरी 2021 को महागठबंधन के आह्वान पर ह्यूमैन चेन के निर्माण के लिये की जा रही तैयारियों की समीक्षा की जाएगी.

इस बैठक में प्रस्तावित मानव श्रृंखला को सफलता पूर्वक कराये जाने के लिये आवस्यक मार्ग निर्देश दिए जाएंगे. बैठक की समाप्ति के पश्चात महागठबंधन के शीर्ष नेताओं द्वारा संयुक्त प्रेस वार्ता की जाएगी. इस कार्यक्रम में महागठबंधन के हिस्सा भाकपा (माले) के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य भी भाग लेंगे. वह 30 जनवरी को पटना में आयोजित मानव शृंखला में भी भाग लेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज