Home /News /bihar /

संघवाद-समाजवाद को साथ जीते हैं पद्म भूषण हुकुमदेव नारायण यादव

संघवाद-समाजवाद को साथ जीते हैं पद्म भूषण हुकुमदेव नारायण यादव

हुकुमदेव नारायण यादव (फाइल फोटो)

हुकुमदेव नारायण यादव (फाइल फोटो)

पद्म भूषण पुरस्कार पाने वाले हुकुमदेव नारायण यादव को बीते वर्ष 1 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उत्कृष्ट सांसद के अवार्ड से नवाजा था.

ठेठ देसी मिजाज और अंदाज में अपने लाजवाब भाषणों से विरोधियों को चित करने में बेजोड़ हुकुमदेव नारायण यादव   को इस बार पद्म भूषण पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है. वर्तमान में बिहार के मधुबनी से सांसद हैं. पूर्व राज्यमंत्री हुकुमदेव फिलहाल तो बीजेपी में हैं, लेकिन संघवाद और समाजवाद को एक साथ जीने वाले नेता के तौर पर विशिष्ट पहचान रखते हैं.

हुकुमदेव नारायण यादव को बीते वर्ष 1 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उत्कृष्ट सांसद के अवार्ड से नवाजा था.

17 नवम्बर 1939 को हुकुमदेव नारायण यादव का जन्म दरभंगा के बिजुली गांव में एक किसान परिवार में हुआ था. पिता राजगीर यादव एक स्वत्रन्ता सेनानी थे. माता का नाम चंपा देवी पत्नी सुदेश यादव हैं. इनके दो लड़के और एक लड़की है.

ये भी पढ़ें- पद्म पुरस्‍कारों की घोषणा: हुकुमदेव नारायण यादव को पद्म भूषण और मनोज वाजपेयी को पद्मश्री

हुकुमदेव नारायण यादव ने अपना स्नातक राजनीतिक विज्ञान और अर्थशास्त्र में बिहार यूनिवर्सिटी से किया है. हुकुमदेव नारायण यादव का झुकाव शुरू ही समाज सेवा की ओर था.

वर्ष 1950 में हुकुमदेव नारायण राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संपर्क में आए और करीब 10 वर्ष तक संघ में सक्रिय भूमिका निभाई. इसके बाद वर्ष 1960 में पहली बार राजनीति में कदम रखा. वे पहली बार अपने गांव बिजुली पंचायत के ग्राम प्रधान के लिए चुने गए थे.

ये भी पढ़ें- गिरिराज का तंज, कहा- रॉबर्ट वाड्रा के बेटे को बाल समिति का अध्यक्ष बना दिया जाए

वर्ष 1977 में पहली बार भारत की छठी लोकसभा के सदस्य बने. इस दौरान वे जनता पार्टी के सदस्य थे. वर्ष 1980 में लोक दल की ओर से राज्यसभा सांसद बने. इसके बाद अन्य और कई दायित्वों का निर्वहन करते हुए वर्ष 1993 में भारतीय जनता पार्टी से जुड़े.

वे किसान मोर्चा के दो बार अध्यक्ष भी रह चुके हैं और भाजपा के बिहार के उपाध्यक्ष के पद पर भी कार्य किया है.

वर्ष 1980 में इन्होंने एक किताब लिखी थी जिसका नाम “गाँव की कहानी” है. इनके “किसान की बात” और “संसद में गाँव” जैसे विषयों पर लेख कई पत्र- पत्रिकाओं में प्रकाशित किए गए हैं.

ये भी पढ़ें- 'आकाश' मिसाइल के साथ राजपथ पर राष्ट्रपति को सलामी देगा बेगूसराय का लाल

Tags: Bihar News, BJP, Darbhanga news, Hukumdev narayan yadav, Madhubani news, PATNA NEWS, Ramnath kovind, Rashtriya Swayamsevak Sangh

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर