लाइव टीवी

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए जेपी नड्डा का पटना से है ये खास कनेक्‍शन

Neel kamal | News18 Bihar
Updated: January 20, 2020, 9:06 PM IST
बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए जेपी नड्डा का पटना से है ये खास कनेक्‍शन
भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जगत प्रकाश नड्डा का पटना कनेक्‍शन.

जगत प्रकाश नड्डा (Jagat Prakash Nadda) को भारतीय जनता पार्टी का 11वां राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया है. जबकि अमित शाह (Amit Shah) के केंद्रीय मंत्री बनने के बाद नड्डा को 19 जून 2019 को कार्यकारी अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई थी. यही नहीं, नड्डा का पटना से खास कनेक्‍शन रहा है.

  • Share this:
पटना. जगत प्रकाश नड्डा (Jagat Prakash Nadda) भारतीय जनता पार्टी के 11वें राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गये हैं. उन्होंने चुनाव प्रक्रिया के तहत सुबह पार्टी मुख्यालय में इस पद के लिए नामांकन दाखिल किया था, लेकिन दूसरा कोई पर्चा दाखिल नहीं होने पर उन्हें आम सहमति से अध्यक्ष चुन लिया गया. बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi), केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी समेत सभी भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्री, राज्यों के प्रदेश अध्यक्ष जेपी नड्डा के नाम का प्रस्ताव रखा. नड्डा को नरेन्द्र मोदी और अमित शाह के अलावा संघ का भी करीबी माना जाता है. अमित शाह (Amit Shah) के केंद्रीय मंत्री बनने के बाद नड्डा को 19 जून 2019 को कार्यकारी अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई थी.

क्या है जेपी नड्डा का पटना कनेक्शन?
2 दिसंबर 1960 में पटना में ही जन्मे जेपी नड्डा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष होने के साथ राज्यसभा सदस्य भी हैं. पटना के सेंट जेवियर्स स्कूल से शिक्षा प्राप्त करने वाले नड्डा ने पटना विश्वविद्यालय से बीए और एलएलबी किया है. जबकि वह शुरू से ही वे एबीवीपी से जुड़े हुए थे. इसके बाद वो हिमाचल में आगे की पढ़ाई के लिए चले गये और वहां पहली बार एबीवीपी के अध्यक्ष चुने गये. हालांकि 1993 में पहली बार वे हिमाचल प्रदेश से विधायक चुने गये थे और 1994 से 1998 तक हिमाचल विधानसभा में पार्टी के नेता भी रहे. वहीं 1998 में वे हिमाचल सरकार में स्वास्थ्य और संसदीय मामलों का मंत्री बने. इसके बाद 2007 में प्रेम कुमार धूमल की सरकार में उन्हें वन-पर्यावरण, विज्ञान व टेक्नोलॉजी विभाग का मंत्री बनाया गया.

कब बने थे भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष

2012 में जेपी नड्डा को राज्यसभा का सांसद चुना गया. 2014 में नरेन्द्र मोदी सरकार में स्वास्थ्य मंत्रालय की कमान सौंपी गई थी और 2019 में मोदी सरकार -2 में उनके कैबिनेट में शामिल ना होने से यह अटकल लगायी जा रही थी कि उनको कोई बड़ी जिम्मेवारी दी जा सकती है. जबकि  जून 2019 को दिल्ली में संसदीय बोर्ड की बैठक में कार्यकारी अध्यक्ष के तौर पर नड्डा के नाम पर मुहर लगा दी.

JP Nadda, BJP, Patna, जेपी नड्डा, भाजपा, पटना
पीएम मोदी और अमित शाह के खास माने जाते हैं नड्डा.


 क्या कहते है पीयू के प्रोफेसर?
पटना विश्वविद्यालय के सेवानिवृत प्रोफेसर बीएन पाण्डेय ने बताया कि जेपी नड्डा को उन्होंने गोद में खिलाया है. वह बचपन से ही शहर और गांव दोनों का महत्व समझते थे. पाण्डेय ने बताया कि बनियापुर चुनाव में कैसे मैट्रिक में पढ़ने वाले जेपी नड्डा ने चुनाव में कार्य किया था. कम उम्र में ही वे सारण के बनियापुर में हो रहे चुनाव में लग गये थे.

नड्डा के पिता का था पटना कनेक्शन
मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के रहने वाले जगत प्रकाश नड्डा यानी जेपी नड्डा के पिता डॉ. नारायण लाल नड्डा पटना विश्वविद्यालय के डिपार्टमेंट ऑफ एप्लाइड इकोनॉमिक एण्ड कॉमर्स में हेड ऑफ डिपार्टमेंट थे. जबकि डॉ.नारायण लाल नड्डा 1947 में हिमाचल प्रदेश से बिहार आये थे और पटना विश्वविद्यालय में 26 वर्ष तक लगातार विभागाध्यक्ष रहे. जेपी नड्डा के पिता के शिष्य रह चुके प्रो. बीएन पाण्डेय ने बताया कि जेपी नड्डा के पिता सिर्फ उनके ही गुरु नहीं थे बल्कि उनके गुरुओं के भी गुरु थे.

 

जेपी नड्डा के पिता ने लिखी पुस्तक
बता दे किं प्रो. बीएन पाण्डेय ने जिस विभाग में जेपी नड्डा के पिता डॉ. नारायण लाल नड्डा से शिक्षा प्राप्त की थी. उसी विभाग के वो विभागाध्यक्ष भी बने. उन्होंने बताया कि डॉ. नड्डा फिलहाल 94 साल के हैं, लेकिन उनमें पढ़ने-लिखने का जज्बा आज भी कायम है. उन्होंने 91 साल की उम्र में विधि एक रचना नाम से पुस्तक लिखना शुरू की थी और तीन साल में उनके द्वारा लिखित पुस्तक का लोकार्पण दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में किया गया था. इस लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने की थी, जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर देश के कानून एवं आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद के साथ केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और अश्वनी चौबे समेत कई नेता मौजूद रहे थे.

बिहार भाजपा में खुशी की लहर
जगत नारायण नड्डा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और सांसद डॉ. सीपी ठाकुर ने कहा कि नड्डा का जन्म पटना में हुआ और शिक्षा-दिक्षा पटना से हुई तो वे तो पूरे बिहारी हुए. उनके पिता भी आधे बिहारी ही हैं. उन्होंने खुद के कॉलेज के दिनों को याद करते हुए बताया कि कैसे डॉ. नड्डा कॉलेज के झगड़ों को खत्म कराते थे.

बहरहाल, जेपी नड्डा को भाजपा का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष बनाये जाने पर खुशी जाहिर करते हुए बिहार भाजपा का कहना है कि जेपी नड्डा भाजपा को फलक तक ले जाएंगे.

ये भी पढ़ें-

 

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: CBI की चार्जशीट मे खुला था दोषियों का कच्चा चिट्ठा

 

दिल्ली में 2 सीटों पर चुनाव लड़ेगी JDU, बीजेपी के साथ हुआ गठबंधन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 4:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर