बिहार कैबिनेट: सवर्ण से लेकर दलित तक को साधने की कोशिश, जानें नीतीश सरकार का जातीय समीकरण

नीतीश कुमार ने सातवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली हैं
नीतीश कुमार ने सातवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली हैं

बिहार की नई नवेली सरकार में पुरानी सरकार से कुछ ही चेहरों को शामिल किया गया है. नई कैबिनेट में जीतन राम मांझी के बेटे संतोष सुमन और मुकेश सहनी जैसे नए चेहरे शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 5:48 PM IST
  • Share this:
पटना. नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार की नई सरकार (Nitish Government) का गठन हो चुका है. सोमवार को पटना में राजभवन स्थित सभागार में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) समेत उनकी कैबिनेट के सदस्यों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई. नीतीश कुमार के नेतृत्व में बनी सरकार में पहली दफे यूपी की तर्ज पर दो डिप्टी सीएम बनाया गया है. कुल 15 मंत्रियों को सरकार में फिलहाल शामिल किया गया है.

शपथ लेने वालों में सबसे अधिक भाजपा से 7, जदयू से 5 और हम-वीआईपी से एक-एक मंत्री शामिल हैं. नीतीश मंत्रिमंडल में हमेशा की तरह जातिगत समीकरण को भी साधने का प्रयास किया गया है. जातिगत हिसाब से नीतीश कुमार की नई सरकार के मंत्रियों को देखें तो 15 सदस्यीय मंत्रिमंडल में सभी वर्गों को प्रतिनिधित्व देने की कोशिश की गई है. हां ये बात और है कि फिलहाल इस सरकार में मुस्लिम को जगह नहीं मिली है.

पिछड़ा वर्ग से पांच चेहरे
नीतीश कुमार की कैबिनेट में 4 सवर्ण, अति पिछड़ा वर्ग के 3, पिछड़ा वर्ग से 5, दलित वर्ग से 2 विधायकों को मंत्री पद दिया गया है. नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल में जातिगर ब्यौरे की बात करें तो वो कुछ इस प्रकार से है.
नीतीश कुमार - मुख्यमंत्री - पिछड़े वर्ग के कुर्मी जाति से आते हैं



रेणू देवी- डिप्टी सीएम -अति पिछड़े वर्ग के नोनिया जाति से आती हैं.

तारकिशोर प्रसाद- डिप्टी सीएम- पिछड़े वर्ग के कलवार जाति से आते हैं.

मंगल पांडेय- मंत्री- ब्राह्मण जाति से आते हैं.

अमरेंद्र प्रताप सिंह -मंत्री- राजपूत जाति से आते हैं.

रामप्रीत पासवान- मंत्री- दलितों के पासवान जाति से आते हैं.

जीवेश कुमार- मंत्री -भूमिहार जाति से आते हैं.

रामसूरत राय- मंत्री- यादव जाति से आते हैं.

विजय कुमार चौधरी- मंत्री- भूमिहार जाति से आते हैं.

विजेंद्र यादव- मंत्री- यादव जाति से आते हैं.



अशोक चौधरी- मंत्री- दलित तबके के पासी जाति से आते हैं

मेवालाल चौधरी- मंत्री- कुशवाहा जाति से आते हैं

शीला कुमारी- मंत्री- अति पिछड़े मंडल जाति से आती हैं

संतोष सुमन- मंत्री- दलितों के मुसहर जाति से आते हैं.

मुकेश सहनी- मंत्री- अति पिछड़े मल्लाह जाति से आते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज