Lalu Yadav News: ...तो अब AIIMS में ही रहेंगे लालू यादव, कोरोना से बचाव के लिए परिवार ने लिया अहम फैसला

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लालू यादव को उनके परिवार ने एम्स में रखने का किया फैसला.

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लालू यादव को उनके परिवार ने एम्स में रखने का किया फैसला.

Lalu Prasad Yadav News: बिहार समेत देशभर में फैलते कोरोना संक्रमण के बीच लालू प्रसाद यादव के पटना लौटते ही उनके समर्थकों की भीड़ जुटने और कोरोना प्रोटोकॉल टूटने की आशंका को देखते हुए परिवार ने लिया फैसला.

  • Share this:
पटना. चारा घोटाला मामले में झारखंड हाईकोर्ट से लालू प्रसाद यादव को जमानत मिलने के बाद उनके परिवार और समर्थकों में खुशी की लहर है. खासकर बिहार में राजद समर्थकों में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है. साथ ही विपक्षी दलों को भी लालू यादव के बिहार आने का इंतजार है. लेकिन इस बीच खबर आई है कि बिहार समेत देशभर में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए लालू यादव के परिवार ने अभी आरजेडी सुप्रीमो को एम्स में ही रखने का निर्णय लिया है. ऐसे में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री के समर्थकों को अपने चहेते नेता से मिलने या उन्हें देखने के लिए अभी कुछ दिन इंतजार करना पड़ सकता है.

देशभर में कोरोना के नए स्ट्रेन के संक्रमण के मद्देनजर लालू यादव का परिवार उनकी सुरक्षा को लेकर किसी भी तरह का समझौता करने के मूड में नहीं दिख रहा है. News 18 के पास जो एक्सक्लूसिव जानकारी है, उसके मुताबिक लालू परिवार का हर सदस्य यही चाहता है कि संक्रमण से बचाव के लिए राजद प्रमुख को अभी कुछ दिन और एम्स में ही रखा जाए. इस बारे में बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी परिवार के सभी सदस्यों से बातचीत कर रही हैं.

भोजपुरी में पढ़ें - विरोधी नेतन के भी पसंद आवेला लालू क हाजिरजवाबी

लालू यादव को एम्स में रखने के लिए तेजस्वी यादव, उनकी बहन मीसा भारती और भाई तेजप्रताप यादव तीनों सहमत हैं. न्यूज 18 को अंदरूनी सूत्रों से जो खबर मिली है, उसकी मानें तो तेजस्वी यादव भले ही पिता की सेहत का हवाला देकर उन्हें एम्स में ही रखने की वकालत कर रहे हैं. लेकिन इसके पीछे बड़ी वजह कुछ और है. दरअसल, लालू के प्रशंसकों के डर से उन्हें कुछ दिन एम्स ही रखे जाने का निर्णय लिया जा रहा है. बताया जा रहा है कि अगर संक्रमण के बीच लालू यादव पटना लौटते हैं, तो उनके समर्थक बड़ी संख्या में पटना के 10 सर्कुलर रोड स्थित आवास में उनसे मिलने पहुंच सकते हैं. ऐसे में न सिर्फ संक्रमण का खतरा बढ़ेगा, बल्कि यह कोरोना प्रोटोकॉल का भी उल्लंघन होगा. लालू के परिवारवाले डरे हुए हैं कि एक छोटी सी भी चूक इस महामारी में लालू यादव के लिए घातक साबित हो सकती है.
ये भी पढ़ें- लालू यादव को जमानत मिलने से बिहार में बदलेगी सियासी तस्वीर

न्यूज 18 के पास जो पहले से जानकारी है उसके मुताबिक कानूनी प्रक्रियाओं को पूरा करते हुए मंगलवार शाम तक लालू की रिहाई संभव है. बावजूद इसके लालू परिवार ने यह तय कर लिया है कि तत्काल लालू प्रसाद को AIIMS में ही रखना सुरक्षित है. यही नहीं, जैसी जानकारी है उसके मुताबिक अगर संक्रमण कम भी होता है तब भी लालू यादव को पटना के बजाए दिल्ली आवास पर ही रखने की तैयारी है, ताकि उन्हें प्रशंसकों की भीड़ से बचाया जा सके. इसके पीछे एक बड़ी वजह ये भी है कि लालू प्रसाद को हार्ट और किडनी जैसी गंभीर बीमारियां भी हैं. ऐसी हालत में अगर लालू AIIMS से बाहर भी निकलते हैं तो संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज