• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • तीन साल बाद 5 जुलाई को पटना लौटेंगे लालू यादव! तेजस्वी ने मांगी RJD का स्थापना दिवस मनाने की अनुमति

तीन साल बाद 5 जुलाई को पटना लौटेंगे लालू यादव! तेजस्वी ने मांगी RJD का स्थापना दिवस मनाने की अनुमति

चारा घोटाला मामले में लालू यादव को जमानत मिलने के बाद बिहार लौटने की खबरों के साथ ही  हो गई है.

चारा घोटाला मामले में लालू यादव को जमानत मिलने के बाद बिहार लौटने की खबरों के साथ ही हो गई है.

Bihar Politics News: आगामी 5 जुलाई को राष्ट्रीय जनता दल की स्थापना के 25 वर्ष पूरे हो रहे हैं. पार्टी ने इस स्थापना दिवस को प्रदेश, जिला, प्रखंड और पंचायत स्तर पर मनाने का निर्णय लिया है.

  • Share this:
    पटना. राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (RJD Chief Lalu Prasad Yadav) को भी दिल्ली से पटना बुलाने की तैयारी की जा रही है. इसको लेकर डाक्टरों से विमर्श किया गया है. अगर डॉक्टरों ने इजाजत दी तो संभव है कि आगामी पांच जुलाई को लालू यादव करीब तीन साल बाद पटना में होंगे. इस बात की जानकारी स्वयं उनके बेटे व बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने दी. तेजस्वी ने इस बात की जानकारी सोमवार को राजद विधानमंडल दल की बैठक के बाद दी.

    बता दें कि चारा घोटाले के मामले में उन्हें हाल में ही जमानत मिली है. वे फिलहाल अस्वस्थ हैं और वर्तमान में वे दिल्ली में अपनी बड़ी बेटी मीसा भारती के घर पर रह रहे हैं. बता दें कि इससे पहले वे तीन साल पूर्व अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी में पेरोल पर कुछ दिनों के लिए पटना आए थे.

    राजद की स्थापना के 25 साल
    बता दें कि आगामी 5 जुलाई को राष्ट्रीय जनता दल की स्थापना के 25 वर्ष पूरे हो रहे हैं. राजद की स्थापना वर्ष 1997 में लालू प्रसाद यादव ने जनता दल से अलग होकर की थी. पार्टी ने इस स्थापना दिवस को प्रदेश, जिला, प्रखंड और पंचायत स्तर पर मनाने का निर्णय लिया है. सोमवार को विधायक दल की बैठक के बाद तेजस्वी ने कहा कि नई पीढ़ी को राजद की स्थापना के उद्देश्य और सिद्धांतों के साथ ही 25 वर्षों के संघर्ष और उपलब्धियों के बारे में बताने की जरूरत है. राजद किसी खास जाति अथवा वर्ग की पार्टी नहीं है. यह किसी खास समुदाय की पार्टी नहीं है, बल्कि सबकी पार्टी है. विधानसभा चुनाव में इस बार हम वैसी सीटों पर भी जीते हैं, जहां 1995 में ही जीत नहीं मिली थी.

    कार्यक्रम के लिए प्रशासन से मांगी परमीशन
    इस मौके पर राजद के मुख्य प्रदेश प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने बताया कि प्रयास होगा कि कार्यक्रम को परंपरागत तरीके से ही मनाया जाए. प्रशासन से इजाजत मांगी गई है. इजाजत नहीं मिलेगी, तो वर्चुअल मोड में आयोजन होगा। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, अब्दुल बारी सिद्दीकी, जयप्रकाश नारायण यादव, तेजप्रताप यादव, अवध बिहारी चौधरी, रमई राम, श्याम रजक, उदय नारायण चौधरी, बुलो मंडल, ललित यादव समेत कई प्रमुख नेता मौजूद थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज