आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव की बेटी 30 दिनों तक रखेंगी रोजा, ये है वजह

 आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव लंबे अरसे से बीमार चल रहे हैं.

आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव लंबे अरसे से बीमार चल रहे हैं.

आरजेडी सुप्रीमो लालु प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की बेटी रोहिणी आचार्य (Rohini Acharya) 30 दिनों तक रोजा रखेंगी. रोहिणी ने अपने पिता के बेहतर स्वास्थ्य और जेल से रिहाई के लिए रोजा रखेंगी. उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 7:38 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. झारखंड हाईकोर्ट में चारा घोटाले के चार मामलों के सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की जमानत पर अब 16 अप्रैल को सुनवाई होगी. लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले के मामले में अब तक एक साल 17 दिन की सजा काट चुके हैं. आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव लंबे अरसे से बीमार चल रहे हैं. इसी बीच, उनकी बेटी रोहिणी आचार्य 30 दिनों तक रोजा रखेंगी. रोहिणी ने अपने पिता के बेहतर स्वास्थ्य और जेल से रिहाई के लिए रोजा रखेंगी. उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी. रोहिणी के फैसले पर यूजर्स अलग-अलग ढंग से प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

रोहिणी ने ट्विटर पर लिखा, "कल से रमज़ान का पाक महीना शुरू हो रहा है! इस साल हमने भी फैसला किया है कि पूरे महीने अपने पापा के सेहतयाबी और सलामती के लिए रोज़े रखूंगी! पापा की हालत में सुधार हो और जल्दी न्याय मिल सके इसकी भी दुआ करूँगी!" साथ ही मुल्क में अमन चैन हो इसलिए ईश्वर/ अल्लाह से कामना करूँगी."

 Rohini Acharya, Lalu Yadav
रोहिणी के फैसले पर यूजर्स अलग-अलग ढंग से प्रतिक्रिया दे रहे हैं.


उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा, "साथ मे चैती नवरात्र भी है, मेरे अंदर इनती हिम्मत है कि मैं दोनों पावन पर्व पूरी निष्ठा के साथ पूरा कर सकती हूं! मुझे किसी ज़हरीले परवरिश की नफ़रती सोच से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता. आप सभी को चैती नवरात्र की भी हार्दिक शुभकामनाएं."
एक यूजर राज श्रीवास्तव ने रोहिणी के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, "क्या फर्क पड़ता है जब कोई रमज़ान में रोजे रखता हो या ईश्वर के आगे नतमस्तक होता हो. ऊपरवाला सुनेगा उसकी जो उसकी राह में होगा. हिन्दू या मुसलमान होना वैसे ही है जैसे शिया या सुन्नी होना, शुद्र-वैश्य-क्षत्रिय या ब्राह्मण होना. राहें सबकी जुदा है लेकिन लक्ष्य शिर्फ सर्वशक्तिमान है."
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज