सुशील मोदी के बयान पर RJD का पलटवार, कहा- अफवाह मियां के भंडूलपन से बिहार और पार्टियां अवगत

आरजेडी ने सुशील कुमार मोदी पर जोरदार पलटवार किया है.

आरजेडी के प्रवक्‍ता शक्ति सिंह यादव (Shakti Singh Yadav) ने सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) के लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) पर एनडीए सरकार को अस्थिर करने की कोशिश के आरोपों के बाद पलटवार किया है.

  • Share this:
    पटना. बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए ने 125 सीट हासिल करने के साथ नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के नेतृत्‍व में एक बार फिर सरकार बना ही है. हालांकि 7वीं बार बिहार के मुख्‍यमंत्री की कुर्सी पर बैठने वाले नीतीश को इस बार उनके 'सरकारी साथी' सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) को कैबिनेट में जगह नहीं मिली है. इस बीच बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) पर आरोप लगाया है कि वे बिहार में एनडीए की सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्‍होंने ट्वीट किया,' लालू यादव रांची से एनडीए के विधायकों को फोन कर रहे हैं और उन्हें मंत्री पद देने का वादा कर रहे हैं. जब उन्‍होंने 8051216302 पर रिंग किया तो लालू ने सीधे फोन उठाया. उन्होंने (सुशील मोदी) उनसे कहा कि जेल से यह गंदा खेल न खेलें, आप कामयाब नहीं होंगे. सुशील मोदी के आरोपों के बाद आरजेडी ने पलटवार किया है.

    आरजेडी ने किया जोरदार पलटवार
    आरजेडी के प्रवक्‍ता और तेजस्‍वी यादव के करीबी माने जाने वाले शक्ति सिंह यादव ने सुशील कुमार मोदी पर पलटवार किया है. उन्‍होंने ट्वीट किया, ' सुशील मोदी अपनी डूबती राजनीति आभा से आहत हैं. भाजपा भाव नहीं दे रही है, इसलिए लालू प्रसाद प्रसाद का नाम लेकर भाजपा में पैठ बनाना चाहते हैं, ताकि राजनीति की वैतरणी पार लग सके! अफवाह मियां के भंडूलपन से बिहार और पार्टियां अवगत हैं.



    बहरहाल, 243 सीट वाले बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में एनडीए के पास 125 सीटें हैं, जबकि जेडीयू के महागठबंधन के पास 110, एलजेपी के पास 1 सीट और 7 सीटें अन्य के खाते में हैं. चुनाव नतीजों से पूर्व आए चुनावी अनुमानों में बिहार में महागठबंधन की सरकार बनती दिख रही थी, लेकिन नतीजे तमाम अनुमानों के खिलाफ आए हैं. बिहार में एनडीए की सरकार का गठन हो चुका है. इस बार की सरकार में दो उपमुख्यमंत्री बनाए गए हैं और पिछली सरकार में उपमुख्यमंत्री रह चुके सुशील कुमार मोदी को मंत्रिमंडल में भी जगह नहीं मिली है.



    विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए होगा चुनाव
    इस बार बिहार विधानसभा के अध्यक्ष का चयन इस बार निर्विरोध नहीं होगा. इस बार बिहार विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए महागठबंधन ने भी अपना प्रत्याशी मैदान में उतार दिया है. एनडीए की ओर से विजय सिन्हा उम्मीदवार बनाए गए हैं. जबकि कांग्रेस, राजद और वाम दल वाले महागठबंधन की ओर से राजद के विधायक अवध बिहारी चौधरी स्पीकर के उम्मीदवार होंगे. 25 नवंबर को नए विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा. तेजस्वी प्रसाद यादव कहा विधानसभा के सचिव के समक्ष हमलोगों ने अपने उम्मीदवार के नामांकन का फार्म जमा किया है और पूरा विश्वास है कि इसमें हम लोगों की जीत होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.