बिहार चुनाव 2020 : 9 नवंबर को लालू जी की रिहाई होगी और 10 को होगी नीतीश की विदाई : तेजस्वी यादव

चुनाव प्रचार के दौरान नवादा जिले में तेजस्वी ने दावा किया कि महागठबंधन की सरकार बनेगी और नीतीश की विदाई तय है.
चुनाव प्रचार के दौरान नवादा जिले में तेजस्वी ने दावा किया कि महागठबंधन की सरकार बनेगी और नीतीश की विदाई तय है.

तेजस्वी ने हिसुआ की सभा में कहा कि लालू जी 9 नवंबर को रिहा किए जाएंगे. उन्हें एक मामले में जमानत मिल चुकी है और दूसरे में 9 नवंबर को मिल जाएगी. उसी दिन मेरा जन्मदिन भी है. ठीक इसके अगले दिन, नीतीश जी की विदाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2020, 7:57 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनावों (Bihar Assembly Elections) में महागठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार और राजद नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने नवादा (Nawada) जिले के हिसुआ विधानसभा क्षेत्र में आयोजित चुनावी रैली में कहा कि 9 नवंबर को लालू यादव (Lalu Yadav) की रिहाई हो रही है, उसी दिन मेरा जन्मदिन भी है और 10 तारीख को नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की विदाई है.

आपको याद दिला दें कि तेजस्वी यादव के पिता लालू यादव भ्रष्टाचार के मामले में झारखंड में न्यायिक हिरासत में हैं. उन्हें अभी हाल ही में झारखंड हाईकोर्ट से जमानत मिली है लेकिन वे अभी जेल से बाहर नहीं आ सकते क्योंकि एक दूसरे मामले में दाखिल जमानत की याचिका पर अभी सुनवाई बाकी है. तेजस्वी ने हिसुआ की सभा में कहा कि लालू जी 9 नवंबर को रिहा किए जाएंगे. उन्हें एक मामले में जमानत मिल चुकी है और दूसरे में 9 नवंबर को मिल जाएगी. उसी दिन मेरा जन्मदिन भी है. ठीक इसके अगले दिन, नीतीश जी की विदाई है. तेजस्वी यादव और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पहली बार बिहार में संयुक्त रूप से चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. ध्यान रहे बिहार विधानसभा चुनाव तीन चरणों में होना है. 28 अक्टूबर, 3 और 7 नवंबर को मतदान होने हैं, जबकि चुनाव के नतीजे 10 नवंबर को आएंगे.

'नीतीश जी थक गए हैं, बिहार का ध्यान रख पाने में नाकाम'



तेजस्वी ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए शुरुआती भाषण में कहा कि वो उबाऊ और थकाऊ भाषण देने नहीं आए हैं. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश जी, आप थक चुके हैं. बिहार का ध्यान रख पाने में आप नाकाम हैं. उन्होंने भोजपुरी में कहा कि 15 साल से डबल इंजन की सरकार है लेकिन क्या ब्लॉक या जिला में कोई काम बिना चढ़ावा दिए होता है? तेजस्वी ने सभा में उपस्थित लोगों से पूछा कि क्या 15 साल में नीतीश जी ने आपको रोजगार दिया, पलायन रोका? उन्होंने राज्य में उद्योग धंधे लगवाए? तेजस्वी ने कहा, 'नीतीश जी कहते हैं कि बिहार समंदर के किनारे नहीं है इसलिए यहां उद्योग नहीं लग सके लेकिन मैं पूछना चाहता हूं कि लालू जी ने रेल मंत्री रहते हुए मधेपुरा, छपरा में रेल कारखाना लगवाए या नहीं लगवाए?'
10 लाख नौकरियों का वादा दुहराया

तेजस्वी ने अपने पिता लालू यादव की शैली में जनसभा को भोजपुरी में संबोधित किया, उन्होंने कहा, 'देख भाई लोग, हम नवरात्र कैले बानी, झूठ न बोलब, हम सीधा बात करतनी, जो कहतनी, वो सच कर तानी. महागठबंधन की जीत होगी. इस गठबंधन में कांग्रेस के साथ लेफ्ट पार्टियां भी हैं और मुख्यमंत्री बनते ही हमारी कलम चलेगी तो पहली कैबिनेट मीटिंग में 10 लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी देंगे.' उन्होंने कहा कि नीतीश जी बजट का 40 फीसदी पैसा खर्च भी नहीं कर पाते हैं और हमसे पूछते हैं कि पैसा कहां से आएगा? तेजस्वी ने कहा कि सरकारी नौकरी के अलावा प्राइवेट नौकरियां भी मिलेंगी. उन्होंने युवकों से कहा फॉर्म भरने की फीस और परीक्षा केंद्रों तक जाने का किराया भा हम माफ कर देंगे. आशा कार्यकर्ता और जीविका दीदियों को स्थाई करेंगे. तेजस्वी ने पीएम मोदी पर भी निशाना साधा और पूछा कि उस विशेष पैकेज का क्या हुआ जिसके लिए आपने पांच साल पहले बिहार की बोली लगाई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज