लालू यादव को जमानत मिलने से बिहार में बदलेगी सियासी तस्वीर

चारा घोटाला मामले में लालू यादव को जमानत मिलने के बाद बिहार की राजनीति में हलचल तेज हो गई है.

चारा घोटाला मामले में लालू यादव को जमानत मिलने के बाद बिहार की राजनीति में हलचल तेज हो गई है.

Bihar Politics: आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को झारखंड हाईकोर्ट से दुमका कोषागार मामले में जमानत मिलने के बाद बिहार में विपक्ष के हौसले बुलंद होने लगे हैं, तो वहीं सरकार को 'लालू के झटके' का डर सताने लगा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 18, 2021, 10:49 AM IST
  • Share this:
पटना. करोड़ों के चारा घोटाले के चार मामलों में सजायाफ्ता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव को झारखंड हाईकोर्ट से दुमका कोषागार मामले में भी शनिवार को जमानत मिल गई. इसके साथ ही बिहार की सियासत का पारा चढ़ गया. विपक्ष के हौसले को उड़ान मिल गई, वहीं सरकार को लालू के झटके का भय सताने लगा है. जेल में रहते लालू प्रसाद ने जिस प्रकार सरकार को हिलाने का प्रयास किया था एनडीए उसे भूला नहीं है. इस कारण वो लालू के जमानत पर बाहर आने पर चौकस है. क्योंकि उसे पता है कि सत्ता की कुर्सी के जरूरी अंकों में बहुत ज्यादा का अंतर नहीं है.

सियासी तोड़-फोड़ में मास्टर लालू प्रसाद जेल में रहते जब सरकार को अस्थिर कर सकते हैं, तो बाहर आने के बाद वे समय-समय पर सरकार को हिलाने-ढुलाने का कोई मौका नहीं छोड़ेंगे. अपनी इसी राजनीति के कारण लालू आज भी सत्‍ता पक्ष के निशाने पर होते हैं. साथ ही विपक्ष की राजनीति के केंद्र में भी होते हैं. कांग्रेस और वाम दलों समेत विपक्षी के दलों की राजनीति लालू की कृपा पर ही टिकी रहती है.

लालू के आने से एकजुट होगा विपक्ष

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज