बिहार में बारिश और वज्रपात का कहर, पटना, जहानाबाद समेत इन जिलों में आठ लोगों की हुई मौत

आज इंटरनेशनल लाइटिंग सेफ्टी डे मनाया जाता है. (File Photo)

मंगलवार की सुबह सूबे के कई जिलों में बेमौसम बारिश से रबी की फसल को भी काफी नुकसना पहुंचा है. वज्रपात ने अधिकांश जगहों पर वैसे लोगों को निशाना बनाया है जो कृषि संबंधित कार्यों के लिए अपने-अपने खेतों में गए थे.

  • Share this:
    पटना. बिहार में असमय हुई बारिश (Rain) और वज्रपात (Lightning) ने लोगों पर कहर बरपाया है. राज्य के अलग-अलग जिलों में मंगलवार की सुबह हुई बारिश के दौरान आकाशीय बिजली (Lightning Strike) गिरने से 8 लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग जख्मी हो गए. तीन मौतें पटना और दो मौत जहानाबाद जिला में हुई है.

    नालंदा और बांका में भी मौत

    नालन्दा में वज्रपात से एक अधेड़ की मौत हो गई. घटना अस्थावां थाना क्षेत्र के रामी विगहा गांव की है जहां खेत मे काम करने के दौरान ये हादसा हुआ और अधेड़ की मौके पर ही मौत हो गई. बाढ़ में भी वज्रपात से एक शख्स की मौत हो गई. घटना बाढ़ थाना के सादिकपुर की है जहां खेत में काम कर रहे शख्स पर बिजली आ गिरी. बांका में भी वज्रपात से एक युवक की मौत हो गई. घटना कटोरिया के पपरेवा की है. मृतक की पहचान 18 वर्षीय अजय के रूप में हुई है. जानकारी के मुताबिक युवक घर के बरामदे में बैठा था तभी ये हादसा हुआ.

    जहानाबाद में महिला समेत दो जख्मी भी

    जहानाबाद जिला में दो अलग-अलग जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने से दो लोगो की मौत हो गयी. पहली घटना टेहटा ओपी के नेवारी गांव की है जबकि दूसरी घटना घोषी थाना के डाहरपुर गांव की है. वज्रपात की घटना में नेवारी और शकुरबाद थाना क्षेत्र में एक महिला सहित दो लोग झुलस गए.

    पटना और जमुई में भी मौत

    पटना जिला के ही दुल्हिन बाजार में ठनका गिरने से दो व्यक्तियों की मौत हो गई. आकाशीय बिजली गिरने की ये घटना दुल्हिन बाजार