Home /News /bihar /

बिहार विधानसभा कैंपस में शराब की बोतल मिलने पर थाना में FIR दर्ज, CCTV खंगालने में जुटी पुलिस

बिहार विधानसभा कैंपस में शराब की बोतल मिलने पर थाना में FIR दर्ज, CCTV खंगालने में जुटी पुलिस

मंगलवार को बिहार विधानसभा परिसर में स्टाफ बाइक पार्किंग के पास शराब की खाली तीन बोतलें और दो पाउच बरामद किये गये थे

मंगलवार को बिहार विधानसभा परिसर में स्टाफ बाइक पार्किंग के पास शराब की खाली तीन बोतलें और दो पाउच बरामद किये गये थे

Bihar News: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा इसकी जांच के आदेश देने के बाद बुधवार को पटना के सचिवालय थाने में इस संबंध में एफआईआर दर्ज किया गया. सचिवालय थाना अध्यक्ष चंद्रभूषण प्रसाद गुप्ता के बयान पर यह केस दर्ज हुआ है. उन्होंने अपनी शिकायत में लिखा कि विधानसभा कैंपस में स्टाफ बाइक पार्किंग से दक्षिण और एनेक्सी भवन के पास कूड़े के ढेर पर शराब की तीन खाली बोतलें और दो टेट्रा पैक पाया गया है

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार विधानसभा परिसर में मंगलवार को शराब की खाली बोतलों के मिलने (Liquor Found In Bihar Assembly Campus) के मामले में नया मोड़ आ गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) द्वारा इसकी जांच के आदेश देने के बाद बुधवार को पटना (Patna) के सचिवालय थाने में इस संबंध में एफआईआर (FIR) दर्ज किया गया. सचिवालय थाना अध्यक्ष चंद्रभूषण प्रसाद गुप्ता के बयान पर यह एफआईआर दर्ज हुआ है. चंद्रभूषण गुप्ता ने अपनी शिकायत में लिखा कि विधानसभा कैंपस में स्टाफ बाइक पार्किंग से दक्षिण और एनेक्सी भवन के पास कूड़े के ढेर पर शराब की तीन खाली बोतलें और दो टेट्रा पैक पाया गया है. उन्होंने आगे लिखा कि एक बोतल पर ब्रांड के रूप में पार्टी स्पेशल, दूसरा इंपिरियल ब्लू और तीसरा मेक्डोवेल ब्रांड का नाम लिखा हुआ है. वहीं, मिले दो टेट्रा पैक पर 8 पीएम लिखा है.

दरअसल मंगलवार को विधानसभा परिसर में शराब की खाली बोतलें और टेट्रा पैक मिलने की सूचना पर पुलिस ने यहां पहुंचकर इसे जब्त किया था. न्यायालय से आदेश मिलने के बाद पुलिस अब शराब और टेट्रा पैक को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजेगी. थानेदार के बयान पर अज्ञात लोगों के खिलाफ शराब पीकर बोतल फेंकने की आईपीसी की धारा 35A और 37B के तहत एफआईआर नंबर 147/2021 दर्ज की गई है. सचिवालय थाने के दरोगा राजेश कुमार को इस केस का इनवेस्टिगेटिंग ऑफिसर (आईओ) बनाया गया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक बरामद शराब की बोतलों पर काफी मिट्टी और धूल जमी हुई थी. इन बोतलों को देखने से ऐसा लग रहा था कि यह काफी पुरानी हैं.

बिहार विधानसभा परिसर में शराब की खाली बोतलें मिलने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन की कार्यवाही के दौरान काफी नाराजगी जताई थी (फाइल फोटो)

सुराग पाने के लिए CCTV कैमरों के फुटेज खंगालेगी पुलिस 

ऐसे में कई तरह के सवाल उठ रहे हैं कि क्या यह किसी की शरारत तो नहीं? क्या साजिश के तहत किसी ने वहां शराब की बोतलों को लाकर रख दिया था? या फिर सच में किसी ने वहां शराब पी थी और फिर बोतल को फेंक दिया? इन सवालों का जवाब तलाशने के लिए पुलिस ने अपनी जांच तेज कर दी है. पुलिस शराब के बोतल बरामद होने वाली जगह के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगालने में जुटी हुई है. इसके लिए विधानसभा के अंदर लगे कैमरों के फुटेज को भी पुलिस चेक करेगी. एनएक्ससी भवन में भी कैमरा लगा हुआ है, उसके फुटेज को भी खंगाला जाएगा. इस केस में पुलिस को अब उस व्यक्ति की तलाश है जिसने सबसे पहले वहां शराब की खाली बोतलों को देखा था.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक शराब की बोतलों के सबसे पहले देखने वाले शख्स ने कुर्ता-पायजामा पहन रखा था. उसने ही शोर मचाया और मीडिया को वहां तक ले गया. यह भी सवाल पैदा होता है कि आखिरकार वो व्यक्ति कौन है? इस बारे में अब तक पुलिस को कोई जानकारी नहीं मिल पाई है. इस शख्स की पहचान सीसीटीवी फुटेज से की जाएगी. जब यह मामला सामने आया था तब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में काफी नाराजगी जताई थी. उनके गुस्से को देखते हुए पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एस.के सिंघल और मुख्य सचिव मौके पर पहुंचे थे और वहां पर अपने स्तर पर जांच की थी.

Tags: Bihar Liquor Smuggling, Bihar News in hindi, CM Nitish Kumar, FIR, Liquor Ban

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर