पिता की राजनीतिक हत्या करना चाहते थे नीतीश, चाचा पशपुति ने दिया धोखा: चिराग पासवान

चिराग पासवान ने सीएम नीतीश को लेकर दिया बड़ा बयान. (फाइल फोटो)

Bihar LJP Dispute: चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने दावा किया कि बिहार प्रदेश अध्यक्ष से पशुपति पारस को हटाने का फैसला रामविलास पासवान (Pashupati Paras) का था.

  • Share this:
पटना. लोक जनशक्ति पार्टी  (LJP) में सत्ता और पावर को लेकर चिराग पासवान (Chirag Paswan) और उनके चाचा और लोजपा के एमपी पशुपति कुमार पारस (MP Pashupati Kumar Paras) के बीच खींचतान जारी है. सियासी गहमागहमी के बीच चिराग पासवान ने अपने कार्यकर्ताओं के लिए एक खत लिखा है. एक खत के लिए चिराग ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के साथ-साथ अपने चाचा पशुपति पारस पर निशाना साधा है. चिट्ठी के जरिए चिराग ने कई गंभीर आरोप भी इन दोनों नेताओं पर लगाए हैं.



चिराग पासवान ने अपने खत में लिखा, 'उम्मीद करता हूं आप सभी स्वस्थ होंगे, यकीनन पिछला एक साल सभी के लिए कठिन रहा है. कोरोना महामारी की पहली और दूसरी लहर में हम सब ने कुछ ना कुछ खोया है. बिहार विधानसभा चुनाव में एलजेपी को सिर्फ 15 सीट दी जा रही थी जो कि तार्किक नहीं था. इसके साथ ही चिराग ने नीतीश कुमार पर निशाना साधा और कहा रामविलास पासवान की राजनीतिक हत्या करना चाहते थे नीतीश कुमार. बिहार प्रदेश अध्यक्ष से पशुपति पारस को हटाने का फैसला रामविलास पासवान का था. पशुपति पारस ने रात के अंधेरे में छुरा घोंपने का काम किया.

समर्थकों ने जारी किया पोस्टर

चाचा पशुपति पारस और भतीजे चिराग के बीच एलजेपी पार्टी को लेकर चल रही रसाकसी के बीच चिराग समर्थकों ने दो पोस्टर जारी किया है. इसमे एक में दिखाया गया है कि बिहार के मुख्यमंत्री के आदेश पर उनके पार्टी को तोड़ा गया है, तो दूसरे पोस्टर में यह दर्शाने की कोशिश की गई है कि उनके पार्टी के नेता और सांसद जेडीयू के सांसद ललन सिंह और मुख्यमंत्री नीतीश के साथ मिलकर खंजर मारा है. यह पोस्टर चिराग समर्थक अमर आज़ाद ने आज जारी किया है.

सीएम नीतीश कुमार का बड़ा बयान

लोजपा में चल रहे विवाद पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने साफ कहा कि लोजपा विवाद में हमारी कोई भूमिका नहीं है. ये उनका आपसी मामला है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के बारे में बयान देकर लोगों को पब्लिसिटी मिलती है, इसलिए बोले है. इस मसले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देनी. ये लोजपा का अंदरूनी मामला है. लेकिन कुछ लोग हमारे खिलाफ पब्लिसिटी के लिए लगातार बयान दे रहे है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.