LJP Crisis: पटना लौटते ही तेजस्वी यादव ने बताया कौन है लोजपा में टूट का मास्टरमाइंड?

पटना लौटते ही तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा.

LJP Controversy news: बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जितना ध्यान दूसरी पार्टियों को तोड़ने में लगाते हैं उतना अगर बिहार के विकास में लगाते तो बेहतर होता.

  • Share this:
    पटना. लोजपा में जारी राजनीतिक विवाद के बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) बुधवार को पटना पहुंचे. लगभग दो महीने बाद बिहार लौटे तेजस्वी के तेवर सीएम नीतीश कुमार को लेकर उतने ही तल्ख थे जितने पहले थे. नेता प्रतिपक्ष से मीडिया ने जब लोजपा विवाद के बारे में पूछा तो  उन्होंने एलजेपी में  टूट के लिए सीधे तौर पर जेडीयू और सीएम नीतीश कुमार (CM nitish Kumar) को जिम्मेदार ठहरााते हुए कहा कि इसके पीछे कौन मास्टरमाइंड है यह सभी जानते हैं. तेजस्वी ने यह भी कहा कि लोजपा को 2005 और 2010 में भी तोड़ने का प्रयास किया गया था.

    बता दें कि एलजेपी में राजनीतिक संंग्राम के बीच चिराग पासवान ने अपने कार्यकर्ताओं के लिए एक खत लिखा था. एक खत के लिए चिराग ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के साथ-साथ अपने चाचा पशुपति पारस पर निशाना साधा था. चिराग ने सीएम नीतीश के बारे में कहा कि वे उनके पिता रामविलास पासवान की राजनीतिक हत्या करना चाहते थे.

    हालांकि एलजेपी के घमासान पर नीतीश कुमार ने मंगलवार को दिल्ली में साफ तौर पर कहा कि इससे उनका कोई लेना देना नहीं है और ये पासवान परिवार के आपस का मामला है या उनकी पार्टी का मामला है. नीतीश कुमार ने इस दौरान साफ किया कि उनका लोजपा के आपसी झगड़े से कोई लेना देना नहीं है.

    सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि वे लोग मेरा और मेरी पार्टी का नाम केवल पब्लिसिटी स्‍टंट के लिए ले रहे हैं. ये उनका एक तरीका है जिससे उनका थोड़ा प्रचार प्रसार होगा. वे चाहते हैं कि हम इस मामले पर कुछ बोलें जिससे उनका और प्रचार हो और लोग उनको ज्यादा सुने. नीतीश कुमार ने साफ किया कि उन्हें लोजपा के अंदरूनी मामले में कुछ भी नहीं बोलना है.

    बता दें कि हाल में ही चिराग पासवान के सांसद चाचा पशुपति कुमार पारस ने लोजपा के छह में से पांच सांसदों के साथ पार्टी का नेता खुद को घोषित किया है. पटना में उन्हें लोजपा संसदीय दल ने अपना नेता भी माना और पार्टी मीटिंग में उनको राष्ट्रीय अध्यक्ष भी घोषित कर दिया गया. हालांकि चिराग पासवान ने इसे अवैध कहा है. लोजपा के वास्तविक अध्यक्ष होने का यह मामला अभी चुनाव आयोग के पास लंबित है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.