CM नीतीश से तकरार के बीच LJP ने भाजपा को दिए सीट बंटवारे के तीन फॉर्मूले, जेडीयू ने कही ये बात

एलजेपी 143 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है.
एलजेपी 143 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है.

एलजेपी (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) के सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को लेकर तल्ख तेवर के कारण एनडीए में बवाल मचा हुआ है. अब एलजेपी ने अकेले चुनाव लड़ने का मन बना लिया है, लेकिन इस बीच उसने सीटों के बंटवारे के लिए तीन फॉर्मूले भाजपा को दिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 8:05 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में एनडीए से अलग चुनाव लड़ने के संकेतों के बीच एलजेपी (LJP) के पास सीट बंटवारे के 3 फॉर्मूले हैं. एलजेपी सूत्रों के मुताबिक, पार्टी ने इस फॉर्मूले से बीजेपी (BJP) को अवगत कराया है, लेकिन विस्तृत चर्चा अब तक नहीं हो पाई है. जबकि दूसरी तरफ जेडीयू (JDU) नेताओं की मानें तो अगर एलजेपी अकेले चुनाव मैदान में गई तो जीरो पर आउट हो जाएगी. यकीनन बिहार में विधानसभा चुनाव की घोषणा से पहले एनडीए में सब कुछ सामान्य नहीं है. एलजेपी बिहार में सीटों का तालमेल न होने पर 143 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है, तो दूसरी तरफ जेडीयू नेताओं ने उसके फेल होने की भविष्‍यवाणी कर दी है.

क्या है एलजेपी का फॉर्मूला?
>> एलजेपी सूत्रों के मुताबिक, पहले फॉर्मूले के तहत बीजेपी 111, जेडीयू 96 और एलजेपी को 36 सीटों चुनाव लड़ने के लिए मिले. इस फॉर्मूले का आधार तीनों पार्टियों के पास मौजूदा लोकसभा सांसदों की संख्या को रखा गया है यानी राज्य में एक लोकसभा सीट पर 6 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारी आधार है.
>> एलजेपी के दूसरे फॉर्मूले के मुताबिक,जेडीयू 100, बीजेपी 101 और एलजेपी 42 सीटों पर चुनाव लड़े. पिछली बार एलजेपी 42 सीटों पर चुनाव मैदान में उतरी थी और एलजेपी के सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी ने उसे 42 सीट देने का वादा किया है. ये फॉर्मूला उसी आधार पर है.
>> एलजेपी के तीसरे फॉर्मूले के मुताबिक, बीजेपी 102, जेडीयू 102 और एलजेपी 39 सीटों पर चुनाव मैदान में उतरे. इस फॉर्मूले का आधार पिछले लोकसभा चुनाव में तीनों पार्टियों की तरफ से लड़ी गई लोकसभा सीटों की संख्या को आधार बनाया गया है.



जेडीयू सांसद का बयान, अकेले लड़े तो जीरो पर आउट होगी एलजेपी!
एनडीए के मुख्य साझीदार जेडीयू के सांसद सुनील कुमार पिंटू ने एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान पर निशाना साधा है. जेडीयू सांसद का दावा है कि अगर एलजेपी अकेले चुनाव मैदान में उतरी तो जीरो पर आउट हो जाएगी. उन्‍होंने कहा कि अगर चिराग पासवान को कोई गुमराह कर रहा है और वो 143 सीटों पर लड़ने को तैयार हैं तो बीजेपी और जेडीयू भी तैयार हैं. बार बार एलजेपी की तरफ से नीतीश कुमार के विधानसभा चुनाव लड़ने के मसले पर जेडीयू सांसद ने कहा कि जब चिराग पासवान की उम्र 3 साल की थी तो नीतीश विधायक बन चुके थे. चिराग पासवान खुद एयरलिफ्ट हुए हैं. जेडीयू का ये भी कहना है कि एलजेपी का गठबंधन बीजेपी के साथ है इसलिए एलजेपी को कितनी सीट मिलेगी ये बीजेपी और एलजेपी के बीच का मसला है न कि जेडीयू का.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज