लाइव टीवी
Elec-widget

झारखंड में BJP को बड़ा झटका दे सकती है JDU-LJP, साथ चुनाव लड़ने के दिए संकेत

News18 Bihar
Updated: November 13, 2019, 3:08 PM IST
झारखंड में BJP को बड़ा झटका दे सकती है JDU-LJP, साथ चुनाव लड़ने के दिए संकेत
झारखंड में नीतीश कुमार की जेडीयू और चिराग पासवान की एलजेपी एक साथ चुनाव लड़ सकती है. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के अलगाव के बाद जेडीयू-बीजेपी (BJP-JDU) का झारखंड और दिल्ली में इकट्ठे आना भारतीय जनता पार्टी के लिए एक बड़ा सेटबैक साबित हो सकता है.

  • Share this:
पटना. लोक जन शक्ति पार्टी (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election) एनडीए से अलग लड़ने का ऐलान किया तो यह बीजेपी (BJP) के लिए एक बड़ा झटका माना गया. यह इसलिए कि एनडीए (NDA) की बड़ी सहयोगी जेडीयू (JDU) पहले से ही अकेले लड़ने की घोषणा कर चुकी है. अब ये दोनों पार्टियां मिलकर झारखंड के साथ दिल्ली में भी बीजेपी को और बड़ा झटका दे सकती है. दरअसल, जेडीयू के बड़े नेता ने ये संकेत दिए हैं कि एलजेपी और जेडीयू इन दोनों प्रदेशों में एक साथ चुनाव लड़ सकती हैं.

जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने न्यूज 18 से बात करते हुए बड़ा बयान दिया है. उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि एलजेपी तो एक तरह से जेडीयू का ही हिस्सा है. वैचारिक तौर पर नीतीश कुमार और रामविलास पासवान की विचारधारा समान है. समरस विचार की दोनों पार्टियां झारखंड और दिल्ली में अगर एक साथ संयुक्त अभियान चलाएगी तो समाज का बड़ा तबका इनके साथ आएगा.

नीतीश कुमार और रामविलास पासवान. (फाइल फोटो)


JDU-LJP में चल रही बातचीत

बता दें कि मंगलवार को चिराग पासवान ने यह ऐलान कर दिया था कि झारखंड में एलजेपी 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी. हालांकि, उसके बाद जेडीयू के साथ चुनाव लड़ने की भी खबरें सामने आने लगी हैं. राजनीतिक गलियारों से मिल रही खबरों पर यकीन करें तो कहा जा रहा है कि जेडीयू-एलजेपी के बीच बातचीत भी जारी है.

JDU का इनकार
दूसरी तरफ, जेडीयू नेता और बिहार सरकार में मंत्री अशोक चौधरी ने झारखंड में एलजेपी और जेडीयू के साथ चुनाव लड़ने की अटकलों पर कहा कि चिराग ने अपने तरीके से फैसला लिया है, जबकि जेडीयू ने पहले से ही अपने उम्मीदवार घोषित किए हैं. गठबंधन के लिए चिराग ने देर से फैसला लिया है. जेडीयू में किस स्तर पर बात हो रही पता नहीं. सूत्रों की मानें तो एलजेपी ने दिल्ली में भी अकेले चुनाव लड़ने का मन बना लिया है. जाहिर है महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के अलगाव के बाद जेडीयू-बीजेपी का इन प्रदेशों में इकट्ठे आना एक बड़ा सेटबैक साबित हो सकता है.
Loading...

इनपुट- अमितेश

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 2:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...