Lockdown 3.0 : अबतक 1.37 लाख अप्रवासी मजदूर बिहार लौटे, 4.27 लाख और आएंगे
Patna News in Hindi

Lockdown 3.0 : अबतक 1.37 लाख अप्रवासी मजदूर बिहार लौटे, 4.27 लाख और आएंगे
रेलगाड़ी जैसे ही शालीमार स्टेशन से खुली, कई यात्रियों ने तालियां बजाईं और खुशी मनाई.

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए जारी लॉक डाउन के बीच बिहार में अप्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) के आने का सिलसिला लगातार जारी है. अभी तक 115 ट्रेनों में सवार 1लाख 37 हजार श्रमिक बिहार पहुंचे, 4 लाख 27 हजार और आएंगे.

  • Share this:
पटना. कोरोना वायरस (Coronavirus) से बचने के उपाय के तौर पर जारी लॉक डाउन (Lockdown) के दौरान अन्य राज्यों में फंसे बिहार के लोगों के आने का सिलसिला जारी है. अब तक 115 ट्रेनों से लगभग 1 लाख 37 हजार प्रवासी श्रमिक (Migrant Labour) अपने राज्य वापस आ चुके हैं. आने वाले दिनों में 267 ट्रेनों से लगभग 4 लाख 27 हजार अप्रवासी मज़दूरों के बिहार (Bihar) आने की संभावना है. इस बारे में मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट करके जानकारी दी है.

गुजरात में 1,43,080 मजदूर अभी फंसे हुए हैं

बिहार सरकार ने राज्य लौटने वाले सभी अप्रवासी मजदूरों का स्वागत करते हुए इस ट्वीट में 11 मई तक के आंकड़े दिए गए हैं. मुख्यमंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी है कि बिहार लौटने वाले अप्रवासी मजदूरों में से सबसे ज्यादा गुजरात में अभी फंसे हुए हैं. यहां मजदूरों की संख्या एक लाख 43 हजार 80 है. इसमें से अभी तक 27,580 लोग वापस आ चुके हैं. गुजरात से ही सबसे अधिक 71 ट्रेनें बिहार आनी हैं. दूसरे नम्बर पर महाराष्ट्र है, जहाँ सबसे ज्यादा 86 हजार 306 श्रमिक हैं. महाराष्ट्र से बिहार के लिए रेल मंत्रालय 58 ट्रेन चला रहा है.



पुड्डुचेरी में सबसे कम 1600 मजदूर फंसे हुए हैं
पंजाब में बिहारी अप्रवासी मज़दूरों की संख्या लगभग 72 हजार 521 है. वहीं तमिलनाडु में 52 हजार 563, कर्नाटक में 46 हजार 23, हरियाणा में 45 हजार 819 बिहारी श्रमिक हैं. बिहार के अप्रवासी मजदूर सबसे कम श्रमिक पुड्डुचेरी में फंसे हुए हैं. यहां पर इनकी संख्या करीब करीब 1600 है. हालांकि यहां से अभी तक कोई ट्रेन नहीं आई है. बिहार सरकार के मुताबिक, एक ट्रेन पुड्डुचेरी से भी बिहार आएगी.

इन राज्यों में बिहार के इतने मजदूर फंसे हुए हैं

इन सभी राज्यो के अलावा बिहार के अप्रवासी देश के 7 अन्य राज्यों में भी फंसे हुए हैं. इसमें उत्तर प्रदेश के 882, आंध्रप्रदेश के 12079 दिल्ली 28211 केरल 12837 राजस्थान 41512, और तेलंगाना के 23068 अप्रवासी मजदूर हैं.



ये भी पढ़ें: 27 स्पेशल ट्रेनों से आज बिहार के इन जिलों में पहुंचेंगे 34 हजार प्रवासी मजदूर

पटना में रेस्‍त्रां से हो सकेगी होम डिलीवरी, किताबों की दुकानें भी खुलेंगी

बिहार के जमुई में भी पहुंचा कोरोना, मुंबई से ऑटो से आया युवक मिला पॉजिटिव

Lockdown के दौरान बिहार में कांग्रेस MLA की गाड़ी में मिली शराब की बोतलें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज