बिहार: रीजनल एजेंसियों के Exit Polls के अलग अनुमान, महागठबंधन को मिल रहीं बंपर सीटें

बिहार की राजधानी पटना से संचालित एक क्षेत्रीय चैनल एनडीए को 25 और महागठबंधन को 15 सीट, वहीं एक लोकप्रिय वेब पोर्टल एनडीए को 24 और महागठबंधन को 16 सीटें दे रहा है.

Vijay jha | News18 Bihar
Updated: May 21, 2019, 3:59 PM IST
बिहार: रीजनल एजेंसियों के Exit Polls के अलग अनुमान, महागठबंधन को मिल रहीं बंपर सीटें
तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)
Vijay jha | News18 Bihar
Updated: May 21, 2019, 3:59 PM IST
लोकसभा चुनाव 2019 के लिए एग्जिट पोल्स के नतीजे आने के साथ ही इस पर विश्वास करने और नहीं करने को लेकर भी खेमेबाजी सामने आ गई है. विरोधी दल जहां इसे नकार रहे हैं वहीं एनडीए इससे सही मान रहा है. इसी तरह का विरोधाभास क्षेत्रीय और राष्ट्रीय चैनलों-एजेंसियों के बीच देखने को मिल रहा है. बिहार में एक ओर राष्ट्रीय चैनल्स एनडीए को क्लीन स्वीप दे रहे हैं वहीं क्षेत्रीय चैनल और पोर्टलों की राय इसके उलट है.

बिहार की राजधानी पटना से संचालित एक क्षेत्रीय चैनल कशिश न्यूज एनडीए को 25 सीटें दे रहा है. इस चैनल के अनुसार औरंगाबाद, नवादा,  किशनगंज, पूर्णिया, कटिहार, बांका, भागलपुर, अररिया, खगड़िया, सीतामढ़ी, चंद्रिका राय, वैशाली, सीवान, मीसा भारती और जहानाबाद से महागठबंधन के उम्मीदवार चुनाव जीत रहे हैं. इस चैनल का सर्वे बता रहा है कि और तीन से चार सीटें ऐसी हैं जहां टफ फाइट है और महागठबंधन और एनडीए में से कोई भी यहां भी जीत सकता है.



वहीं पटना से संचालित एक वेब पोर्टल लाइव सिटीज एनडीए को 24 और महागठबंधन को 16 सीटें दे रहा है. बता दें कि इसी तरह के नतीजे 2015 में भी सामने आए थे. इसमें अधिकतर राष्ट्रीय चैनल्स और पोर्टल बीजेपी की बढ़त बता रहे थे, लेकिन जब नतीजे आए तो महागठबंधन ने क्लीन स्वीप किया था.

ये भी पढ़ें-  मोदी-शाह के करीबी इस नेता की रणनीति होती है 'अभेद्य', बिहार में BJP को बड़ी जीत की उम्मीद

वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भी 2014 राजनीतिक दल को बिहार में कितनी सीटें मिलेंगी इसको लेकर कई तरह के एग्जिट पोल सामने आए थे. सभी एग्जिट पोल ने अपने सर्वे को सही बताया था. लेकिन इनमें से अधिकतर के दावे फेल हो गए थे.

गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में टाइम्स नाउ- ओआरजी के सर्वे ने दावा किया था कि एनडीए को 28 सीट पर जीत मिलेगी तो वहीं यूपीए को 2 सीटों पर जीतने की बात कही गई थी. वहीं, सर्वे ने जनता दल (यूनाइटेड) को 10 सीट जीतने का दावा किया था.

सीएनएन-आईबीएन-सीएसडीएस के सर्वे में एनडीए को 24 और यूपीए 13 सीटें जीतता दिख रहा था. जबकि सर्वे ने जेडीयू को 3 सीटों पर जीत हासिल करने की बात की थी.
Loading...

ये भी पढ़ें- गिरिराज बोले- विपक्ष ने मोदी को गाली दी, हमने उनके काम को आगे रखा

एबीपी न्यूज नीलसन के दावे को मुताबिक एनडीए बिहार में 20 जबकि यूपीए 15 सीटें हासिल करते दिख रहा था. सर्वे ने जेडीयू को 4 तो अन्य के 1 सीट जीतने पर मुहर लगाई थी.

सी-वोटर्स इंडिया टीवी के अनुसार बिहार में एनडीए 28 तो यूपीए 10 सीट जीत रहा था. जबकि सर्वे ने जेडीयू को 2 सीट जीतने का दावा किया था.

न्यूज 24 टुडे चाणक्य की मानें तो उसके सर्वे ने एनडीए को 29 जबकि यूपीए को 10 सीट पर जीत हासिल करने की बात कही थी. इस सर्वे ने जेडीयू को 1 सीट पर जीत का दावा किया था.हालांकि जब परिणाम सामने आए तो सब चौंक गए.

करीब-करीब सारे एग्जिट पोल फेल साबित हुए थे. सिर्फ न्यूज 24 टुडे चाणक्य का सर्वे ही यहां भी तकरीबन सही साबित हुआ था. न्यूज 24 टुडे चाणक्य के एग्जिट पोल में एनडीए को 29 और यूपीए को 10 सीटों पर जीत दर्ज करने का अनुमान जताया गया था. वहीं जब नतीजे सामने आए तो एनडीए 31 और यूपीए ने 7 सीट पर जीत हासिल की.

ये भी पढ़ें-
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...