बिहार: RJD नेता को वंदे मातरम बोलने में परेशानी, BJP बोली-कठमुल्लावाद मुर्दाबाद का नारा लगाएं

BJP ने पलटवार करते हुए कहा कि आजम खान और महबूबा मुफ्ती के कड़ी में अब्दुल बारी सिद्दकी हुए शामिल हो गए हैं. सिद्दीकी को पहले कठमुल्लावाद मुर्दाबाद का नारा लगाना चाहिए.

News18 Bihar
Updated: April 20, 2019, 5:39 PM IST
बिहार: RJD नेता को वंदे मातरम बोलने में परेशानी, BJP बोली-कठमुल्लावाद मुर्दाबाद का नारा लगाएं
अब्दुल बारी सिद्दीकी (फाइल फोटो)
News18 Bihar
Updated: April 20, 2019, 5:39 PM IST
बिहार में दरभंगा से महागठबंधन से आरजेडी के प्रत्याशी अब्दुल बारी सिद्दीकी ने विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि उन्हें और उनके समर्थकों को वंदे मातरम बोलने में परेशानी है. दरभंगा में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने नाथूराम गोडसे को देश का पहला आतंकवादी करार देते हुए कहा कि बीजेपी में हिम्मत है तो लगाए गोड्से मुर्दाबाद के नारे. साथ ही उन्होंने यह भी कह दिया कि भारत माता की जय कहने में परेशानी नहीं है, लेकिन वंदे मातरम बोलने में परेशानी है.

अब्दुल बारी सिद्दीकी के बयान पर BJP ने पलटवार करते हुए कहा कि आजम खान और महबूबा मुफ्ती के कड़ी में अब्दुल बारी सिद्दकी हुए शामिल हो गए हैं. पार्टी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि सिद्दीकी को पहले कठमुल्लावाद मुर्दाबाद का नारा लगाना चाहिए.



निखिल आनंद ने कहा कि सिद्दकी सामाजिक न्याय और पसमांदा समाज के घोर विरोधी हैं और सामाजिक न्याय विरोधी सिद्दकी को जनता जरूर सबक सिखाएगी . उन्होंने कहा कि लालू परिवार को वे कभी भी धोखा दे सकते हैं.

ये भी पढ़ें- बोले शिवानंद- लालू की नजर में तेजप्रताप का मामला, RJD कर सकती है अनुशासनात्मक कार्रवाई

वहीं सिद्दीकी के बयान पर जेडीयू ने भी करारा हमला बोला है. पार्टी के प्रवक्ता अजय आलोक ने तंज कसते हुए कहा, सिद्दीकी जी आप तो ऐसे ना थे, आप पर किसका असर हुआ है, ओवैसी या तेजस्वी का?

उन्होंने कहा कि वंदे मातरम हमारे देश का राष्ट्रीय गीत है जो, स्वाधीनता से जुड़ा हुआ है और हर भारतीय के दिल में है. रही बात आतंकवादी की तो देश का पहला आतंकवादी समूह मुगल थे, जिन्होंने करोड़ों हिंदुओं को जबरन मुसलमान बनाया.  क्या सिद्दकी जी ये पता नहीं?.

हालांकि कांग्रेस ने अब्दुल बारी सिद्दीकी के बयान से किनारा करते हुए कहा कि ये बयान गैरजरूरी है. पार्टी के प्रवक्ता प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि बीजेपी ऐसे बयानों को तुरंत लपकती है और इसका चुनावों पर असर पड़ता है. मिश्रा ने नसीहत देते हुए कहा कि गठबंधन के नेताओं को ऐसे विवादित बयानों से बचना चाहिए. प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि वंदे मातरम हमारे राष्ट्र की अस्मिता का सवाल है और कांग्रेस को वंदे मातरम कहने और गाने में कोई गुरेज नहीं है.
Loading...

इनपुट- नीलकमल/ अमित कुमार सिंह/विपिन कुमार दास

ये भी पढ़ें-
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...