• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • बिहार: लालू-तेजस्वी के पत्र पर JDU का जवाब- तेजस्वी के बयान पर न्यायालय ले संज्ञान

बिहार: लालू-तेजस्वी के पत्र पर JDU का जवाब- तेजस्वी के बयान पर न्यायालय ले संज्ञान

फाइल फोटो

फाइल फोटो

  • Share this:
    बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार के नाम एक खुला पत्र जारी किया है. 1040 शब्दों के जरिये उन्होंने लिखा, लोकतांत्रिक मूल्यों एवं जनादेश का अनादर कर जनता की नजरों में आप मान-सम्मान खो चुके हैं. तेजस्वी ने  अपने पत्र में हाल के वर्षों में हुए कई घटनाआों का जिक्र करते हुए सीएम से कई सवाल पूछे हैं और साजिश कर उनके पिता लालू यादव को जेल भिजवाने का आरोप लगाया है. अब जेडीयू ने तेजस्वी के इस खत पर पलटवार किया है.

    जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि लालू यादव और राबड़ी देवी के शासन से जब बिहार मुक्त हुआ तो बिहार को सड़कों में गड्डों के हालात से निकाला और आज हर गांव में बिजली पहुंचा दी. नीतीश कुमार अंधकार के बाद प्रदेश को उजाले में ले आए.

    ये भी पढ़ें- केसी त्यागी बोले- प. बंगाल में लालू-राबड़ी शासन जैसे हालात, EC की भूमिका पर संदेह

    केसी त्यागी ने कहा कि नीतीश कुमार, सुशील मोदी या पीएम मोदी ने सजा नहीं दी है बल्कि बाकयदा  मुकदमा चलाकर उन्हें सजा मिली है. उन्होंने कहा कि न्यायलय को तेजस्वी के बयान का संज्ञान लेना चाहिए.

    तेजस्वी के पत्र के जवाब में जेडीयू  नेता नीरज कुमार ने भी लालू यादव के नाम से जारी पत्र के जरिए ही जवाब दिया है. उन्होंने लिखा,  आप लालटेन से फिर उसी दौर में बिहार को क्यों ले जाना चाहते हैं, जहां से बड़ी मुश्किल से बाहर निकला है.

    ये भी पढ़ें- डबल मर्डर की घटना से सहमा गया, शराब कारोबारी और सामाजिक कार्यकर्ता की हत्या

    नीरज कुमार ने आगे लिखा, आपके लालटेन से भ्रष्टाचार, नरसंहार, फिरौती के लिए अपहरण ही तो बिहार में आएगा. अब देखिए ना आपके पुत्र आपको जेल जाने के लिए दूसरे को दोष दे रहे हैं. आप तो अदालत के आदेश से जेल में हैं.

    उन्होंने लिखा अगर माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी पर आपके पुत्र आरोप लगा रहे है, तो फिर आप जमानत के लिए इतने व्यग्र क्यों है? मेरा निवेदन है कि आप अपने पुत्र को जेल में ही बुलाकर कुछ सिखा देते, तो उनके बयानों पर आपकी भी जगहंसाई नहीं होती.

    बहरहाल लोकसभा चुनाव के सातवें चरण का चुनाव 19 मई को होगा. इसके बाद 23 मई को नतीजे भी आ जाएंगे. इससे पहले अभी विरोधी दलों के बीच इस तरह के पत्र व्यवहार और वार-पलटवार के अभी कई और दौर चलेंगे.

    ये भी पढ़ें- रात के अंधेरे में मिड डे मील का चावल चुरा रहा था हेडमास्टर, लोगों ने रंगे हाथों दबोचा

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज