लाइव टीवी

लोकसभा चुनाव 2019: इस साल बिहार के नक्सल प्रभावित इलाकों में ज्यादा हुए मतदान

News18 Bihar
Updated: April 12, 2019, 11:38 AM IST
लोकसभा चुनाव 2019: इस साल बिहार के नक्सल प्रभावित इलाकों में ज्यादा हुए मतदान
प्रतीकात्मक फोटो

जमुई और नवादा लोकसभा क्षेत्रों के बेहद नक्सल प्रभावित इलाकों में 2014 में 49.75 प्रतिशत मतदान हुआ था, जो इस बार बढ़कर 53.06 प्रतिशत पहुंच गया.

  • Share this:
बिहार में पहले चरण का चुनाव बिना किसी हिंसा के संपन्न हो गया है. पहले चरण में चार लोकसभा जमुई, गया, औरंगाबाद और नवादा में चुनाव हुए. इसमें करीब 50 बूथ सुरक्षित है. ये इलाके नक्सल प्रभावित है. इन इलाको में सुरक्षा के खाश इंतजामात होते हैं. इस साल भी इन बूथों पर सीआरपीएफ की 35 कंपनियां तैनात की गयी थीं. इन इलाकों में मौजूद बूथों की चौकसी ड्रोन के अलावा एमआइ-17 हेलीकॉप्टर से निरंतर की जा रही थी. इसी का नतीजा है कि पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में इस बार करीब 20 फीसदी ज्यादा मतदान हुए.

इतना ही नहीं गैर-नक्सली इलाकों की तुलना में इन नक्सली इलाकों में वोटिंग ज्यादा हुई. गैर-नक्सली क्षेत्रों में वोटिंग का प्रतिशत 52 से 54 प्रतिशत रहा. जबकि, पूरी तरह से नक्सल प्रभावित इलाकों में वोटिंग का प्रतिशत करीब 60 फीसदी रहा.

गया के बेहद नक्सल प्रभावित इलाकों में एक चकरबंदा में पिछली लोकसभा 2014 में 34 फीसदी मतदान हुआ था, जो 2019 में बढ़ कर 50 फीसदी हो गया. इसी तरह इसी जिला के बहेरा (इमामगंज) में 34 फीसदी से बढ़कर इस बार 55 फीसदी, धनेटा (बांके बाजार) में 40 से बढ़कर 67 प्रतिशत के अलावा सेवरा (मेगरा) और कोल सहिता (डुमरिया) में पिछली बार की तुलना में वोटिंग करीब 20 फीसदी ज्यादा हुई.

जमुई और नवादा लोकसभा क्षेत्रों के बेहद नक्सल प्रभावित इलाकों में 2014 में 49.75 प्रतिशत मतदान हुआ था, जो इस बार बढ़कर 53.06 प्रतिशत पहुंच गया. इस बार सीआरपीएफ की किलेबंदी और चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था की वजह से नक्सलियों के वोट बहिष्कार का कोई असर नहीं पड़ा. चुनाव का विरोध और आमलोगों को वोट नहीं करने की चेतावनी के बाद भी इस इलाके में जमकर मतदान हुआ.

ये भी पढ़ें -

क्लास में पढ़ाने के दौरान बच्चियों के प्राइवेट पार्ट छूता था टीचर, लोगों ने किया ये हश्र

लालू-राबड़ी का 'डबल अटैक', CM नीतीश को बताया 'दोमुहां सांप' और 'लुटेरा'
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए औरंगाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 12, 2019, 11:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...