निकाह के 4 साल बाद पति के बदले तेवर, पत्नी से बोला- धर्म बदलो वरना...

आयोग ने मामले की अगली सुनवाई के लिए फरवरी महीने की तारीख तय की है.
आयोग ने मामले की अगली सुनवाई के लिए फरवरी महीने की तारीख तय की है.

बिहार महिला आयोग ( Women Commission) में शिकायत लेकर पहुंची महिला के मुताबिक, शादी के चार साल बाद पति उसे और उसकी मां पर धर्मपरिवर्तन करने का दबाव बना रहा है. 

  • Share this:
पटना. बिहार महिला आयोग में लव जिहाद (Love Jihad) का एक मामला सामने आया है. इस केस में 33 साल की एक महिला ने अपने पति पर धर्म परिवर्तन करवाने का आरोप लगाया है. महिला की मानें तो वो पटना सिटी की रहने वाली है. पटना विश्वविद्यालय में पढ़ाई के दौरान उसे मुंगेर निवासी युवक से प्यार हो गया था. प्यार की बात फिर शादी तक पहुंच गई. महिला ने घर वालों के विरोध के बावजूद उस युवक से चार साल पहले कोर्ट मैरिज कर ली थी. महिला का कहना है कि वो हिंदू और उसका पति मुस्लिम समुदाय से संबंध रखता है.

शिकायत करने पहुंची महिला के मुताबिक, शुरुआत में कोई दिक्कत नहीं हुई थी. पर अब पति ने धर्म नहीं बदलने पर उसे अपने साथ रखने से इनकार कर दिया है. महिला का कहना है कि आरोपी पति इतने में नहीं रुका. उसके अब मेरे साथ मेरी मां पर भी धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बना रहा है. बता दें कि पति-पत्नी दोनों फिलहाल पटना विश्वविद्यालय में बीएड की पढ़ाई कर रहे हैं.

महिला ने लगाया बड़ा आरोप
शादी के चार साल गुजरने के बाद युवक ने अपनी पत्नी और उसकी मां पर मुस्लिम धर्म अपनाने के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया. ऐसा नहीं करने पर उसने पत्नी को साथ रखने से इनकार कर दिया है. पीड़िता ने आयोग से गुहार लगाई है कि उसका पति उसे बिना धर्म परिवर्तन किए स्वीकार करे. मामले को लेकर पीड़िता ने राज्य महिला की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा से गुहार लगाई है. पीड़िता ने बताया कि उसने चार साल पहले प्रेम विवाह किया था. उस वक्त घर वालों ने विराध किया था, मगर वो नहीं मानी. शादी के चार साल बाद पति धर्म परिवर्तन के लिए कहने लगा.




ये भी पढ़ें:  Air Pollution को रोकने केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला, जनरेटर पर लगाया बैन

वहीं, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा ने कहा कि पीड़िता की शिकायत मिली है. दोनों ने कोर्ट में शादी की है, इसलिए उन्हें सोचने का वक्त दिया जाना चाहिए. आयोग ने मामले की अगली सुनवाई के लिए फरवरी महीने की तारीख तय की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज