मधुबनी हत्याकांड: अपनों से घिरी नीतीश सरकार, बीजेपी विधायक बोले- सिर्फ पैसा कमा रही बिहार पुलिस

मधुबनी हत्याकांड को लेकर  बिहार में सियासत तेज. (फोटोः टि्वटर)

मधुबनी हत्याकांड को लेकर बिहार में सियासत तेज. (फोटोः टि्वटर)

बीजेपी विधायक ज्ञानेंद्र सिंह (Gyanendra Singh) ज्ञानू ने आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार पुलिस (Bihar Police) शराब और पैसे कमाने में लगी है. यूपी की तरह बिहार पुलिस को भी पावर देना चाहिए.

  • Share this:
पटना. होली के दिन मधुबनी (Madhubani) में 5 लोगों की हत्या (Murder) पर बिहार (Bihar) में सियासी घमासान तेज हो गया है. विपक्ष की छोड़ दें तो सत्ताधारी दल के नेता ही इस घटना के बाद सरकार को घेरने में जुट गए हैं  सत्ता पक्ष के लोग ही सरकार पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं. बीजेपी विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अपराधियों  द्वारा नरसंहार किया जा रहा है और पुलिस बिहार में शराब ढूंढने में लगी है. ज्ञानू ने सरकार और पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े किए.

. विधायक ने कहा कि पुलिस केवल शराब और पैसा कमाने में लग गई है. इसलिए पुलिस को शराब के काम से अलग रखना चाहिए .साथ ही मधुबनी मामले में उच्चस्तरीय जांच के साथ-साथ फास्ट ट्रैक कोर्ट से सजा दिलाने की मांग करते हुए ज्ञानू ने कहा कि यूपी की तर्ज पर बिहार में भी पुलिस को गुंडों को मारने के लिए छूट देनी  चाहिए .हालांकि की ज्ञानू अपने ही सरकार पर मधुबनी की घटना के बाद आरोप लगाने वाले अकेले नेता नहीं है .बिहार सरकार के मंत्री नीरज बबलू और जदयू एमएलसी संजय सिंह सहित कई नेताओं इस घटना पर अपने ही सरकार को कटघरे में खड़ा किया है.

हत्याकांड पर सियासत तेज

मधुबनी में एक खास जाती के लोगों की हत्या और उस जाती नेताओं  द्वारा की जा रही सियासत पर जदयू के रष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने मामले की गंभीरता को देखते हुए कहा कि दोषियों को किसी कीमत पर नहीं बख्शा जाएगा. बिहार में अब पहले जैसा अब नरसंहार का दौर नीतीश कुमार के रहते लौटने वाला नहीं है. उन्होंने कहा कि जो भी दोषी होंगे उन पर कड़ी करवाई की जाएगी. बिहार में अपराधियों पर लगातार कार्रवाई की जाती है. यहां अपराधियों को संरक्षण नहीं दिया जाता है. घटना घटने के बाद पुलिस और सरकार त्वरित कार्रवाई करती है.
ये भी पढ़ें: कोरोना की मार: मनाली में वीकेंड पर कम होने लगे पर्यटक, होटल बुकिंग भी रद्द, कारोबारियों में बढ़ी चिंता 

वहीं मधुबनी के मामले में विपक्ष ने भी सरकार पर अपनी भड़ास निकाली. राजद एमएलसी रामबली चंद्रवंशी ने कहा कि बिहार सरकार हर मोर्चे पर फेल है. जहां भी एक से अधिक हत्याएं होती हैं उसे नरसंहार का ही दर्जा दिया जाता है. मधुबनी की घटना दुखद है. सत्ता पक्ष के लोग भी सवाल खड़े कर रहे हैं. ऐसे में सरकार को इस पूरी घटना पर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए .
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज