लाइव टीवी

अयोध्या में राम मंदिर के श्रद्धालुओं के लिए रसोई चलाएगा पटना का महावीर मंदिर ट्रस्ट

भाषा
Updated: November 12, 2019, 2:43 PM IST
अयोध्या में राम मंदिर के श्रद्धालुओं के लिए रसोई चलाएगा पटना का महावीर मंदिर ट्रस्ट
पटना का महावीर मंदिर (फाइल फोटो)

ट्रस्ट अयोध्या में हालात सामान्य होने का इंतजार कर रहा है, ताकि वह यहां सामुदायिक रसोईघर (Community kitchen) का निर्माण आरंभ करवा सके.

  • Share this:
पटना. राम मंदिर (Ram temple) के दर्शन के लिए अयोध्या (Ayodhya) के बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बिहार का महावीर मंदिर ट्रस्ट (Mahaveer Temple Trust) सामुदायिक भोज (Community dinner) की व्यवस्था करेगा. उच्चतम न्यायालय के फैसले से उत्साहित ट्रस्ट के सचिव किशोर कुणाल ने पहले घोषणा की थी कि पटना की यह धार्मिक संस्था राम लला के मंदिर निर्माण के लिए 10 करोड़ रुपए का योगदान देगी. अब ट्रस्ट अयोध्या में हालात सामान्य होने का इंतजार कर रहा है ताकि वह यहां सामुदायिक रसोईघर का निर्माण आरंभ करवा सके. ट्रस्ट की योजना इस रसोई में श्रद्धालुओं के लिए नियमित भोजन और ‘रघुपति’ लड्डू बनाने की है.

आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि महावीर ट्रस्ट ने यह राशि दान करने का संकल्प पांच वर्ष पहले लिया था. उच्चतम न्यायालय ने रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए एक ट्रस्ट के गठन का आदेश दिया है. कुणाल के अनुसार, 10 करोड़ रुपए की यह राशि उसी ट्रस्ट को किश्तों में दी जाएगी. उन्होंने कहा कि यह मानते हुए कि मंदिर निर्माण में पांच वर्ष लगेंगे, मंदिर ट्रस्ट को वार्षिक दो करोड़ की किश्त दी जाएगी. यदि मंदिर इससे पहले तैयार हो जाता है तो उस अवधि में पूरा कोष दे दिया जाएगा.

‘सीता रसोई’ नाम से सामुदायिक रसोई शुरू की

उन्होंने बताया कि इस वर्ष जनवरी में ट्रस्ट ने सीता के जन्म स्थान सीतामढ़ी में ‘सीता रसोई’ नाम से सामुदायिक रसोई शुरू की. अब अयोध्या में भी रामजन्मभूमि स्थल के निकट इसी तरह की रसोई शुरू की जाएगी जिसका नाम ‘राम रसोई’ होगा.

ये भी पढ़ें- 

गोपालगंज: भगवान राम ने नारायणी नदी के डुमरिया घाट पर लगाई थी डुबकीतेज रफ्तार बस अनियंत्रित होकर पलटी, दर्जनों यात्री घायल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 2:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर