लाइव टीवी

मकर संक्रांति पर लालू यादव के यहां इस साल भी नहीं हो रहा दही-चूड़ा भोज, ये है वजह

Amit Singh | News18Hindi
Updated: January 14, 2020, 9:51 AM IST
मकर संक्रांति पर लालू यादव के यहां इस साल भी नहीं हो रहा दही-चूड़ा भोज, ये है वजह
मकर संक्रांति के अवसर पर लालू यादव अपने आवास में लोगों को चूड़ा-दही परोसते हुए (फाइल फोटो)

पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक दही-चूड़ा भोज (Dahi-Chuda) का आयोजन कैंसिल होने की वजह पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi) का अस्वस्थ होना है. बीमार राबड़ी देवी दिल्ली में इलाज करा रही हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2020, 9:51 AM IST
  • Share this:
पटना. लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के जेल जाने के बाद उनके आवास पर मनाए जाने वाले त्योहारों की रौनक गुम हो गई है. मकर संक्रांति (Makar Sankranti) के अवसर पर पटना स्थित लालू आवास (Lalu Yadav Residence) पर इस साल भी दही-चूड़ा भोज का आयोजन नहीं हो रहा है. इससे आरजेडी के नेताओं-कार्यकर्ताओं और उनके समर्थकों में मायूसी है. पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक दही-चूड़ा भोज का आयोजन कैंसिल होने की वजह पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी (Rabri Devi) का अस्वस्थ होना है. बीमार राबड़ी देवी दिल्ली (Delhi) में इलाज करा रही हैं.

दरअसल एक वक्त था जब मकर संक्रांति के मौके पर लालू यादव के घर पर काफी गहमागहमी होती थी. चुनावी वर्ष में जहां बिहार की अलग-अलग राजनीतिक पार्टियां दही-चूड़ा का भोज कर रही हैं वहीं लालू के 10 सर्कुलर रोड स्थित आवास पर इस साल भी सन्नाटा पसरा है. हालांकि राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, तेजप्रताप और मीसा भारती ने लोगों को मकर संक्रांति की शुभकामनाएं दी हैं.

अनोखे अंदाज में त्योहार मनाते थे लालू यादव

लालू यादव को करीब से जानने वाले वरिष्ठ पत्रकार रवि उपाध्याय के मुताबिक लालू यादव को त्योहार मनाना प्रिय रहा है. वो अपने त्योहार में आम लोगों से खांटी अंदाज में मिलते थे जिसे सभी पसंद करते थे लेकिन चारा घोटाला में सजायाफ्ता होने के बाद लालू जेल चले गए और उनके जीवन से त्योहारों की रौनक गायब हो गई. यदि लालू यादव जेल से बाहर होते तो पटना में उनके आवास पर दही-चूड़ा भोज के लिए जलसा होता. हजारों की संख्या में आम से लेकर खास लोगों का तांता लगा होता. लालू खुद अपने हाथों से दही का बर्तन लेकर लोगों को दही और गुड़ बांटते थे. मगर अब लालू के जेल में बंद रहने से उनके आवास पर लगातार दो साल से दही-चूड़ा का भोज नहीं हो रहा है.

मकर संक्रांति के अवसर पर लालू यादव अपनी देखरेख में अपने आवास पर दही-चूड़ा भोज का आयोजन करवाते थे (फाइल फोटो)


वहीं आरजेडी के वरिष्ठ नेता और लालू यादव के करीबी शिवानंद तिवारी मानते हैं कि आज के समय में लालू की कोई बराबरी नहीं कर सकता. वहीं विरोधी लालू यादव के त्योहार के जरिये तेजस्वी यादव पर हमला बोल रहे हैं. बीजेपी के नेता निखिल आनंद ने लालू के आवास पर लगातार दूसरे साल भी दही-चूड़ा भोज का आयोजन कैंसिल होने पर चुटकी ली है. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव जब लालू के त्योहार को आगे बढ़ाने तक में अक्षम हैं तो भला पार्टी कैसे संभाल पाएंगे.

ये भी पढ़ें- तीन बच्चों के पिता ने 2 महीने तक कथित तौर पर युवती से किया रेप, अगवा कर ले गया था सिलीगुड़ीमहिला का आरोप- जेठ कहता है लिपस्टिक में अच्छी लगती हो, ससुर बिछाते हैं बेडशीट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 9:41 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर