बिहार: छोटे कारोबारियों को सरकार ने दी बड़ी राहत, कुछ शर्तों के साथ शुरू किए जा सकते हैं ये काम

बिहार में वापस लौटने वालों को अब क्वारंटीन नहीं करेगी नीतीश सरकार.

Lockdown: बिहार सरकार की ओर से दी गई छूट से छोटे कामगारों को राहत मिलने की उम्‍मीद है.

  • Share this:
पटना. कोरोना वायरस के संक्रमण (Coronavirus) के चलते लॉकडाउन (Lockdown) के बीच गृह मंत्रालय के आदेश पर बिहार सरकार ने लॉकडाउन में छूट देते हुए छोटे-मोटे कारोबारियों को शर्तों के साथ राहत जरूर दी है. इसमें अधिकृत वर्कशाप के मैकेनिक को उनके आई कार्ड के आधार पर काम करने की छूट है, जबकि अनअधिकृत मैकेनिक, प्‍लंबर औऱ टेक्नीशियन को एसडीओ ऑफिस से विशेष पास लेना अनिवार्य है. हालांकि, इस बीच सभी को सोशल डिस्टेसिंग का विशेष ख्याल रखना होगा.

सरकार की इस कोशिश से बेहद साधारण और छोटा-मोटा धंधा करनेवालों को राहत मिलने की उम्‍मीद है, लेकिन सरकार और जिला प्रशासन इसको लेकर सतर्क भी है. इसलिए शुरुआती तौर पर जिला प्रशासन ने जिन लोगों को राहत देने की बात कही है, उन्हें सख्त निर्देश भी दिए गए हैं. पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि ने इस संबंध में जो जानकारी दी है वो बेहद अहम है. साथ में जो ज़िला प्रशासन द्वारा गाइडलाइंस दिए गए हैं उसे हर हाल में सभी को पालन करने का सख्त निर्देश है.

20 अप्रैल से ये सेवाएं होंगी शुरू
मालवाहक परिवहन (राज्य के भीतर एवं बाहर) सेवाएं--वायु मार्ग रेल मार्ग स्थल मार्ग एवं समुद्र मार्ग.
मालवाहक वाहन, सामग्री की आपूर्ति एवं उठाव हेतु उपयोग में प्रयुक्त वाहन.
आवश्यक सामग्री की आपूर्ति चेन को कायम रखने हेतु उसके विनिर्माण, थोक एवं फुटकर बिक्री से संबंधित दुकान एवं गाड़ी.
बड़ी ईंटऔर मोर्टार स्टोर, राजमार्ग पर ढाबा एवं ट्रक मरम्मति की दुकानों, आवश्यक सेवाओं से जुड़े स्टाफ एवं मजदूरों की गतिविधि.

जो सेवाएं आगे भी बंद रहेंगी वो इस प्रकार हैं
घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय हवाई सेवा, ट्रेन, बस, टैक्सी, अंतरराज्यीय परिवहन(सुरक्षा एवं चिकित्सा कार्य को छोड़कर) औद्योगिक एवं वाणिज्यिक गतिविधियां, शिक्षण ,प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थान, आतिथ्य सत्कार की सेवाएं.

सिनेमा हॉल , मॉल, जिम, बार पार्क सभा आदि.
सभी सामाजिक, राजनैतिक, मनोरंजनात्मक, खेल गतिविधि परिसर, धार्मिक स्थल एवं अन्य सभा.

सार्वजनिक स्थलों हेतु मार्गदर्शिका
मास्क का प्रयोग एवं सोशल डिस्टेंस का पालन करना अनिवार्य है.
सार्वजनिक स्थलों पर 5 व्यक्तियों से अधिक इकट्ठा होना प्रतिबंधित है.
सार्वजनिक स्थलों पर थूकना दंडनीय अपराध है तथा जुर्माना किया जाएगा.
शराब, गुटखा, तंबाकू आदि की बिक्री पर पूर्णत:  रोक है.

20 अप्रैल से शुरू होंगे निबंधन कार्यालयों का काम
पटना जिला प्रशासन ने जो निर्देश जारी किए हैं उसके मुताबिक निबंधन पदाधिकारी नियमित तौर पर प्रतिदिन कार्यालय आएंगे,समूह ग एवं घ के 33% कर्मचारी प्रतिदिन कार्यालय आएंगे. निबंधन की राशि ई चालान एवं ई स्टांप के जरिये स्वीकार होगा. हालांकि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन होगा.

ये भी पढ़ें


Bihar COVID-19 UPDATE: 24 घंटे में मिले कोरोना के 10 नये मरीज, संक्रमितों की संख्या 96 पहुंची




COVID–19: 32 बेड के प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में लटका है ताला, स्कूल में क्‍वारेंटाइन किए जा रहे लोग

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.