बिहार बोर्ड मैट्रिक की परीक्षा 21 फरवरी से, सेंटर पर जाने से पहले इन बातों का ख्याल रखें परीक्षार्थी

बीएसईबी अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि ये परीक्षा 28 फरवरी तक चलेगी. आनंद किशोर ने बताया कि परीक्षा को पूरी तरह से कदाचारमुक्त बनाने के लिए पूरी तैयारी की गई है.

  • Share this:
बिहार बोर्ड की मैट्रिक की परीक्षा 21 फरवरी से शुरु हो रही है. इस बार मैट्रिक की परीक्षा में 16 लाख 60 हजार 609 परीक्षार्थी शामिल रहे हैं जिसके लिए पूरे सूबे में 1 हजार 418 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. सभी परीक्षा केंद्रों पर दो पालियों में परीक्षा होगी.

पटना की बात करें तो पटना जिले में इस बार कुल 74 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि परीक्षार्थियों को परीक्षा से 10 मिनट पहले परीक्षा हॉल में पहुंचना अनिवार्य होगा साथ ही परीक्षार्थियों को जूता मोजा पहनकर आना वर्जित किया गया है यानी परीक्षार्थी चप्पल पहनकर ही परीक्षार्थी दे सकेंगे. परीक्षा के दौरान मेन गेट पर मजिस्ट्रेट और प्रतिनियुक्त पुलिसकर्मी को तलाशी लेनी होगी.

ये भी पढ़ें- सुर्खियां : पटना मेट्रो का सपना जमीं पर, सड़क हादसे में सात लोगों की मौत



बीएसईबी अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि ये परीक्षा 28 फरवरी तक चलेगी. आनंद किशोर ने बताया कि परीक्षा को पूरी तरह से कदाचारमुक्त बनाने के लिए पूरी तैयारी की गई है. केन्द्र पर तैनात वीक्षकों के साथ-साथ परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र-छात्राओं के लिए जरुरी निर्देश जारी किए हैं.
ये भी पढ़ें- पटना को मेट्रो ट्रेन तो छपरा को मेडिकल कॉलेज, PM मोदी ने बिहार को दी ये बड़ी सौगातें

किशोर ने बताया कि सेंटर्स पर पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बल की भी तैनाती की जाएगी साथ ही पेपर वायरल करने वाले शरारती तत्वों पर भी हमारी नजर रहेगी. उन्होंने कहा कि जो भी लोग नियमों का उल्ल्घंन करते हुए पकड़े जाएंगे तो उनपर कठोर कार्रवाई की जायेगी. मालूम हो कि बिहार में अभी इंटर की परीक्षा चल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज