• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • राजस्थान से 1200 कामगारों को लेकर 12.45 में दानापुर पहुंचेगी माइग्रेंट स्पेशल ट्रेन, स्टेशन पर होगी स्क्रीनिंग

राजस्थान से 1200 कामगारों को लेकर 12.45 में दानापुर पहुंचेगी माइग्रेंट स्पेशल ट्रेन, स्टेशन पर होगी स्क्रीनिंग

जयपुर से 1200 लोगों को लेक आज दानापुर पहुंचेगी स्पेशल ट्रेन (सांकेतिक चित्र)

जयपुर से 1200 लोगों को लेक आज दानापुर पहुंचेगी स्पेशल ट्रेन (सांकेतिक चित्र)

इस ट्रेन से करीब 1200 मजदूर-छात्र बिहार लाए जाए रहे हैं. जयपुर में रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद उनकी स्क्रीनिंग की गई उसके बाद उन्हे बोगी में बिठाया गया.

  • Share this:
    पटना. बिहार के बाहर फंसे छात्रों और कामगारों को प्रदेश वापसी का सिलसिला शुरू हो गया है. इसी क्रम में शुक्रवार की रात 12 बजे नार्थ-वेस्‍ट रेलवे से पहली ट्रेन मजदूरों को लेकर राजस्थान की राजधानी जयपुर (Jaipur) से बिहार के लिए रवाना हुई. 09771 नंबर की जयपुर-दानापुर माइग्रेंट स्पेशल ट्रेन के दोपहर 12.45 बजे दानापुर (Danapur) पहुंचने का समय निर्धारित किया गया है, पर जयपुर से दो घंटे की देरी से खुली ये ट्रेन बिहार भी थोड़ी देर से पहुंच सकती है. दरअसल देर रात तक जयपुर स्टेशन पर कामगारों के आने का सिलसिला जारी था.

    1200 मजदूर हैं ट्रेन में सवार

    बता दें कि इस ट्रेन से करीब 1200 मजदूर-छात्र बिहार लाए जाए रहे हैं. जयपुर में  रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद उनकी स्क्रीनिंग की गई उसके बाद उन्हे बोगी में बिठाया गया. ये सभी वो मजदूर थे, जिन्‍होंने सरकार की हेल्पलाइन नंबर पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाया था. बसों को सेनेटाइज किया और उसके बाद सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए मजदूरों को बसों में बिठाया गया.

    दानापुर पहुंचने का समय 12.45 है

    दानापुर में इसका आगमन शनिवार को दोपहर के 12:45 बजे निर्धारित है. सीपीआरओ पूर्व-मध्य रेल राजेश कुमार के अनुसार इस स्पेशल ट्रेन में 24 कोच हैं, जिसमें 18 स्लीपर क्लास हैं, जबकि 4 सेकंड क्लास कोच. वहीं दो गार्ड बोगी हैं. सीपीआरओ के मुताबिक ट्रेन जयपुर से चलकर सीधे बिहार के दानापुर स्टेशन रुकेगी. हालांकि इससे पहले ये पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन पर भी रुकेगी जहां उसमें सवार यात्रियों को भोजन व पानी की व्यवस्था है.

    आखिरकार बिहार वापसी का क्रम शुरू हुआ

    गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण बढ़ने पर देशभर में लॉकडाउन कर दिया गया था. इस दौरान बिहार के हजारों कामगार और छात्र राजस्थान सहित कई प्रांत में फंसे हुए हैं. इसी क्रम में बिहार में सियासत भी गरमा गई थी और बिहार सरकार पर उन्हें वापस लाने का दबाव भी बढ़ता जा रहा था. अब जबकि इनके बिहार वापसी का क्रम शुरू हो गया है तो कोरोना संक्रमण को रोकना सरकार की सबसे बड़ी चुनौती है.

    ये भी पढ़ें


    बिना जांच के घर नहीं पहुंच पाएंगे बाहर से आने वाले लोग, तीन स्तरों पर होगी स्क्रीनिंग-डीजीपी




    बिहार आने वाले मजदूरोंं को लेकर तैयारी पूरी, पटना में बनाए गए 99 क्वारंटाइन सेंटर

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज