लाइव टीवी

गोलियों की तड़तड़ाट से थर्राया सोन नदी का इलाका, बालू खनन को लेकर दो गुटों ने एक दूसरे पर की अंधाधुंध फायरिंग
Patna News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 11:45 AM IST
गोलियों की तड़तड़ाट से थर्राया सोन नदी का इलाका, बालू खनन को लेकर दो गुटों ने एक दूसरे पर की अंधाधुंध फायरिंग
सोन नदी से बालू के अवैध खनन की तस्वीर

गोलीबारी की ये घटना पटना जिले के महाबलीपुर इलाके की है जहां बालू के अवैध खनन को लेकर दो गुट एक दूसरे के खून के प्यासे बन बैठे.

  • Share this:
पटना. सोन नदी का पीला सोना कहा जाने वाला बालू की लूट (Illegal Sand Mining) और रास्ते के विवाद को लेकर गुरुवार अहले सुबह पटना से सटे पालीगंज थाना क्षेत्र के महबलीपुर में दो गुटों के बीच भिड़ंत हो गई. एक गुट सुनील यादव का था तो दूसरा अरविंद यादव का. वर्चस्व को लेकर इन दौरान दोनों गुटों के बीच देखते ही देखते गोलीबारी (Firing) शुरू हो गई और पूरा इलाका गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा. दरअसल सोन नदी (Sone River) में बालू खनन के लिए आवागमन ख़ातिर रास्ते को लेकर बालू माफिया आमने सामने हो गये. दोनों तरफ से बंदूकधारियों ने मोर्चा संभाल लिया और एक दूसरे पर फायर करने लगे. अचानक हुई गोलीबारी से अफ़रातफ़री का माहौल कायम हो गया. हालांकि इस गोलीबारी में अबतक किसी के घायल होने की सूचना नहीं मिली है

सूचना मिलते ही पहुंची पुलिस

वर्चस्व को लेकर हुई इस गोलीबारी की खबर पाते ही पालीगंज DSP मनोज पांडेय अपने दल बल के साथ मौका-ए-वारदात पर पहुंचे और उन्होंने पूरे मामले की छानबीन शुरू कर दी. फौरी तौर पर स्थानीय लोगों और बालू घाट के समीप एक मंदिर में मौजूद पुजारी से उन्होंने पूछताछ की लेकिन पुजारी और स्थानीय लोग बालू माफियाओं के भय से DSP को कुछ अधिक नहीं बताये. लोगों से मिली हल्की जानकारी के आधार पर पुलिस ने गांव के ही कुछ लोगों को अपने हिरासत में लिया और उनसे सख़्ती के साथ पूछताछ कर रही है. मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस हिरासत में लिए गए लोगों ने पुलिस के सामने एक दूसरे पक्ष के लोगों पर गोलीबारी करने का आरोप लगा रहे हैं.



चार माह पहले भी हुई थी गोलीबारी की वारदात



चार माह पहले भी वर्चस्व की इसी लड़ाई को लेकर आपस में भिड़े थे और उस वक़्त दो लोग जख्मी हुए थे जिनका इलाज चोरी छिपे इन बालू माफियाओं ने करवाया था और इसके बाद ये लोग शांत बैठ गए थे. लेकिन सोन नदी के इस पीले सोने की भूख कहां मनाने वाली थी सो आज एक बार फिर ये दोनों गुट के लोग आपस मे भिड़ गए.

अवैध बालू खनन से जुड़ी खबर को न्यूज़ 18 ने प्रमुखता के साथ दिखाया था

महाबलीपुर और इसके आसपास के घाटों पर बालू माफियाओं के द्वारा की जा रही बालू के इस अवैध खनन की तस्वीर को न्यूज़ 18 की टीम ने अपनी जान पर खेलकर कवर किया था और इसके बाद जब खनन मंत्री ब्रज किशोर बिंद से इसके बाबत सवाल जबाब करने को लेकर उनसे संपर्क किया तो लगातार फोन पर बात करने के बाद भी खनन मंत्री ब्रज किशोर बिंद ने इस मसले पर अपनी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नही दी. खबर दिखाए जाने के बाद खनन पदाधिकारी राजेश कुमार ने बालू घाट पर अपने दल बल और पालीगंज पुलिस और रानीतलाब पुलिस के साथ मिलकर छापेमारी की थी. छापेमारी के दौरान अवैध रूप से 4 हाइवा और दो ट्रैक्टर को जब्त किया था. इसके बाद खनन पदाधिकारी ने हाइवा और ट्रैक्टर दोनों के मालिकों और ड्राइवर के खिलाफ FIR पालीगंज थाना में दर्ज करवाया था.

ये भी पढ़ें- बिहार में भी दिखने लगा चक्रवाती तूफान Amphan का असर, पटना समेत इन 20 जिलों में अलर्ट

ये भी पढ़ें- बिहार: क्‍वारंटाइन सेंटर में प्रवासी मजदूर ने की आत्महत्या, दो दिन पहले ही दिल्ली से आया था बिहार
First published: May 21, 2020, 11:39 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading