बिहार: मंत्री सुमित सिंह के पिता ने CM नीतीश कुमार को लिखा अजीबोगरीब पत्र, जानिए आ‌ििखिर क्या कहा...

पूर्व मंत्री और वर्तमान में बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित सिंह के पिता नरेंद्र सिंह ने सीएम नीतीश कुमार को एक अजीबोगरीब पत्र लिखा है.

पूर्व मंत्री और वर्तमान में बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित सिंह के पिता नरेंद्र सिंह ने सीएम नीतीश कुमार को एक अजीबोगरीब पत्र लिखा है.

बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित सिंह के पिता नरेंद्र सिंह ने सीएम नीतीश कुमार को एक अजीबोगरीब पत्र लिखा है. अपने पत्र में नरेंद्र सिंह ने नीतीश कुमार से कहा कि 'नीतीश जी कहीं ऐसा न हो जाए कि कोरोना को लेकर जब इतिहास लिखा जाए तो कहीं आपका नाम काले अक्षरों में न लिखा जाए.'

  • Share this:
पटना. बिहार के पूर्व मंत्री और वर्तमान में बिहार सरकार (Bihar Government) के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री सुमित सिंह के पिता नरेंद्र सिंह ने सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को एक अजीबोगरीब पत्र लिखा है. अपने पत्र में नरेंद्र सिंह ने नीतीश कुमार से कहा कि 'नीतीश जी कहीं ऐसा न हो जाए कि कोरोना को लेकर जब इतिहास लिखा जाए तो आपका नाम काले अक्षरों में न लिखा जाए. क्योंकि बिहार में कोरोना को लेकर सरकार जो काम कर रही है वह नाकाफी है. इससे बिहार का भला नहीं हो सकता है और न ही इस तरह करोना से जंग जीती जा सकती है.'

नरेंद्र सिंह ने पत्र के जरिए बिहार सरकार पर कोरोना के दौरान किए जा रहे कामकाज पर हमला बोलते हुए कहा कि 'बिहार में कोरोना के बढ़ते हालात से आप अवगत हैं. इस बीमारी ने संपूर्ण बिहार को अपने आगोश में ले लिया है. लोग बिना इलाज के दम तोड़ रहे हैं. आपकी सरकार ने कुछ हद तक इंतजाम किया है, लेकिन इस बीमारी के प्रभाव पर नियंत्रण पाने में सरकार असफल है.' उन्होंने यह भी कहा कि 'मैं यह पत्र आपकी आलोचना के लिए नहीं लिख रहा हूं, बल्कि कोरोना पर नियंत्रण के लिए ठोस कदम उठाने के लिए अनुरोध कर रहा हूं.'

पूर्व मंत्री और नीतीश कुमार के करीबी रहे नरेंद्र सिंह ने अपने पत्र के जरिये सरकार को कई सुझाव भी दिए, जिसमें उन्होंने कहा कि 'मेदांता अस्पताल को पूरी तरह कोविड हॉस्पिटल बनाया जाय. राज्य के सभी बड़े हॉस्पिटलों को कोविड हॉस्पिटल बना दिया जाय. निजी हॉस्पिटल में ऊंचे  दामों पर लोगों का कोविड का इलाज किया जा रहा है, इस लिए इलाज का खर्च सरकार उठाये. ' इन सभी सुझावों के साथ नरेंद्र सिंह ने नीतीश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि उनकी बात सरकार ने नहीं मानीं तो वे सैकड़ों लोगों के साथ आंदोलन करेंगे और भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगे.

नरेंद्र सिंह बिहार सरकार में लंबे समय तक मंत्री रहे और फिलहाल अभी उनके पुत्र सुमित सिंह जिन्होंने चकाई विधानसभा से निर्दलीय चुनाव जीता और नीतीश सरकार में फिलहाल विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री हैं.  नरेंद्र सिंह से जब यह सवाल पूछा गया कि आप के पुत्र सरकार में मंत्री हैं तो आपने उनसे इस बाबत बात क्यों नहीं की,  जिस पर नरेंद्र सिंह का कहना है कि सुमित कैबिनेट के सदस्य हैं. इस मामले में वे कुछ नहीं कर सकते हैं, जिसके कारण उन्होंने नीतीश कुमार को यह पत्र लिखा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज