NRC पर आमने-सामने हुए नीतीश कुमार के दो मंत्री, कही ये बात

बिहार में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन यानी एनआरसी के मुद्दे को बीजेपी लगातार उठाते हुए इसे प्रदेश में लागू करने की मांग कर रही है लेकिन जेडीयू ने साफ कर दिया है कि बिहार में NRC की जरूरत नहीं है

News18 Bihar
Updated: September 4, 2019, 3:44 PM IST
NRC पर आमने-सामने हुए नीतीश कुमार के दो मंत्री, कही ये बात
एनआरसी से जुड़े मुद्दे को लेकर बिहार में बीजेपी-जेडीयू का स्टैंड अलग-अलग है (सांकेतिक चित्र)
News18 Bihar
Updated: September 4, 2019, 3:44 PM IST
पटना. नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन यानी (NRC) के मुद्दे को लेकर बिहार (Bihar) में सियासत लगातार जारी है. इस कड़ी में बिहार सरकार के मंत्री और बीजेपी नेता विनोद सिंह (BJP Leader Vinod Singh) ने प्रदेश में खुलकर NRC लागू करने की मांग की है. कैबिनेट मंत्री विनोद सिंह की मानें तो बिहार के कई जिलों जिसमें सीमांचल (Seemanchal) और कोशी का इलाका शामिल है में अवैध बांग्लादेशी (Bangladeshi) घुसपैठिए मौजूद हैं जिन्हें बाहर करना चाहिए. उन्होंने कहा कि भारत सरकार ऐसे ही घुसपैठ करने वाले लोगों के लिए ही NRC लागू कर रही है.

JDU का पलटवार

इस कानून के विरोध को लेकर जब विनोद सिंह से सवाल किया गया तो मंत्री ने कहा कि जो लोग विरोध कर रहे है वो ही इस बात को समझें कि क्यों विरोध कर रहे हैं. इस मुद्दे पर बीजेपी के मंत्री विनोद सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया दी तो जदयू कहां पीछे रहने वाली थी. नीतीश सरकार के मंत्री और जेडीयू नेता श्याम रजक ने इशारों ही इशारों में आरएसएस पर हमला बोल दिया. रजक ने कहा कि NRC की मांग करने वाले अपना उद्भव स्थल याद करें. रजक ने कहा कि बिहार में कोई अवैध घुसपैठिया नहीं है. उन्होंने NRC पर भड़काऊ राजनीति करने का भी आरोप लगाया.

लगातार जारी है बयानबाजी

मालूम हो कि बिहार में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन यानी एनआरसी के मुद्दे को बीजेपी लगातार उठाते हुए इसे प्रदेश में लागू करने की मांग कर रही है लेकिन जेडीयू ने साफ कर दिया है कि बिहार में NRC की जरूरत नहीं है. इस मुद्दे पर आरजेडी का स्टैंड अलग है और उसने इस मसले को लेकर बीजेपी पर वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाया है. हालांकि सवाल ये है कि जब असम में एनआरसी की फाइनल लिस्ट पर बीजेपी में भी एकमत नहीं है तो बिहार में इसपर सियासत क्यों शुरू हो गई.

इनपुट- आनंद अमृतराज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 3:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...