• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • मोदी कैबिनेट में शामिल होने का RCP Singh ने खोला राज, कहा- मंत्री बनने का फैसला मेरा नहीं बल्कि...

मोदी कैबिनेट में शामिल होने का RCP Singh ने खोला राज, कहा- मंत्री बनने का फैसला मेरा नहीं बल्कि...

पटना पहुंचे आरसीपी सिंह ने कार्यकर्ताओं को कहा कि उनके और लल्लन सिंह के बीच कोई मतभेद नहीं है. (फाइल फोटो)

पटना पहुंचे आरसीपी सिंह ने कार्यकर्ताओं को कहा कि उनके और लल्लन सिंह के बीच कोई मतभेद नहीं है. (फाइल फोटो)

आरसीपी सिंह सोमवार को पटना पहुंचे, इस दौरान उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार से पूछे बिना आज तक उन्होंने कोई काम नहीं किया, मंत्री बनाने का फैसला भी उन्हीं का था, मैं कभी भी आगे होकर मंत्री बनने नहीं गया.

  • Share this:

पटना. केंद्रीय इस्पात मंत्री राम चन्द्र प्रसाद सिंह सोमवार को पटना पहुंचे जहां जदयू केे कार्यकर्ताओं और नेताओं ने जोरदार स्वागत किया. इस दौरान आरसीपी सिंह ने भी पार्टी के नेताओं से अपने दिल की बात कही. केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने से लेकर ललन सिंह के साथ अपने संबंधों की चर्चा पार्टी के नेताओं के साथ आरसीपी सिंह ने की. केंद्रीय मंत्रीमंडल में शामिल होने पर आरसीपी सिंह ने कहा कि मीडिया में बहुत चीजें चलाई गई मेरे बारे में. कहा गया कि गए थे बरतूहारी करने और खुद दूल्हा बन गए. सीएम नीतीश कुमार से बिना पूछे मैंने कभी कोई काम नहीं किया है. कोई एक काम आप बता दीजिए जो मैंने नीतीश कुमार से बिना पूछे किया हो. क्या बिना नीतीश कुमार से पूछे मैं पीएम में पास चला गया और कहा कि मुझे मंत्री बना दीजिए?

हम लोग सहयोगी दल है बीजेपी से नाम मांगा गया था , नीतीश कुमार से बात हुई उसके बाद सहमति बनी तब मेरा सपथ हुआ है .2019 और 2021 में फर्क नही है क्या . आज भारतीय जनता पार्टी के 303 एमपी है हमारी जरूरत है क्या वहां .यह तो पीएम मोदी का बड़प्पन है यह उनकी दरियादिली और उदारता है उन्होंने अपने सहयोगी दलों को केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल कराया है .
संगठन को मजबूत करने की होगी कोशिश: आरसीपी सिंह

आरसीपी सिंह ने जदयू के संगठन विस्तार और संगठन को मजबूत करने की चर्चा करते हुए कहा कि संगठन कैसे मजबूत हो, इस पर काम होना चाहिए .पार्टी के पदाधिकारी का बोर्ड गाड़ी में नहीं घर पर लगाए. उन्होंने कहा मैंनिकलूंगा मजिस्ट्रेट चेकिंग में. आप लोग झंडा यहां लहरा रहे हैं, लेकिन अपने-अपने घर पर पार्टी का झंडा लगाइएं . यह मत समझिए कि अब मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं हूं तो दौरा नहीं करूंगा. मैं जिला मुख्यालय पर नहीं जाऊंगा बूथ पर पार्टी के साथी के घर जाऊंगा. मैं मंत्रालय में भी काम करूंगा और यहां भी काम करूंगा. पार्टी के दूसरे प्रदेश में भी काम करूंगा.
केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने सोमवार को यह ऐलान कर दिया कि जल्द ही बिहार में बोर्ड और निगम का गठन होगा जिसमें पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ताओं और नेताओं को जगह दी जाएगी. आरसीपीसी ने यह भी कहा कि इसके लिए बीजेपी और सीएम नीतीश कुमार से उनकी बातचीत हो चुकी है.

जातीय जनगणना पर बड़ा बयान

जातीय जनगणना पर केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने कुछ वर्ष पहले विशेष दर्जा के लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मिलमे के लिए समय मांगा था. उस वक्त उन्हें समय नहीं मिला था. जातीय जनगणना की मांग आज से नहीं बरसों से की जा रही है. देश के कई पार्टियों ने इसकी मांग की है. नीतीश कुमार ने बिहार में जो मॉडल स्थापित किया है वह समावेशी विकास का है. सेंसेक्स का काम गृह मंत्रालय को करना है. 2011 में मनमोहन सिंह की सरकार ने सोशियो इकोनामिक सर्वे कराया. जातिगत जनगणना कराने की मांग हमारी पार्टी की रही है. हमारे नेता ने इस मांग को रखा है. लेकिन नीतीश कुमार अब इससे बहुत आगे चले गए हैं. नीतीश कुमार का समावेशी विकास यह दिखाता है कि हम समाज के सब लोगों का विकास चाहते हैं. वहीं जातीय जनगणना पर बीजेपी के विरोध करने के सवाल पर आरसीपी सिंह ने कहा कि इस मामले में बाल का खाल निकाला जा रहा है.
जदयू में गुटबाजी और ललन सिंह से अपने संबंधों को लेकर आरसीपी सिंह ने कहा कि ललन बाबू और मुझ में क्या संबंध है यह विपक्ष को क्या पता रहेगा. ललन बाबू आए उनका स्वागत हुआ तो विपक्ष के पेट में दर्द हो रहा है. उन्होंने कहा कि आज हम आए हैं फिर पेट में दर्द होगा. जदयू में सिर्फ एक नेता नीतीश कुमार. जदयू में कोई गुटबाजी नहीं है. सब एक है सब के नेता नीतीश कुमार हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज