• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • कई मायनों में ऐतिहासिक रहा बिहार विधान मंडल का मॉनसून सत्र, आठ राजकीय विधेयकों को दी गई स्वीकृति

कई मायनों में ऐतिहासिक रहा बिहार विधान मंडल का मॉनसून सत्र, आठ राजकीय विधेयकों को दी गई स्वीकृति

बिहार विधान सभा व विधान परिषद के मॉनसून सत्र का समापन हुआ.

बिहार विधान सभा व विधान परिषद के मॉनसून सत्र का समापन हुआ.

Bhar News: बिहार विधानसभा का मॉनसून सत्र कई मायनों में महत्वपूर्ण रहा. सत्ता पक्ष और विपक्ष के आरोपों के बीच कई महत्वपूर्ण विधेयक पास हुए तो हुए ही, वहीं जातिगत जनगणना को लेकर के भी सियासत खूब हुई.

  • Share this:

पटना. बिहार विधान मंडल के मानसून सत्र का शुक्रवार को समापन (Monsoon session of Bihar legislature ends) हो गया. पांच दिनों के इस सत्र के दौरान सत्ता पक्ष और विपक्ष की नोकझोंक के बीच 8 महत्वपूर्ण विधेयक पास कराए गए. 23 मार्च बजट सत्र के दौरान हुए हंगामे और विधायकों के साथ मारपीट पर विधानसभा में विशेष चर्चा हुई. मॉनसून सत्र में बिहार विधान सभा के पटल पर सीएजी की रिपोर्ट भी रखी गई, जिस पर विपक्ष ने कई सवाल भी खड़े किए. मॉनसून सत्र में कुल 5 बैठकें हुईं. संविधान की दसवीं अनुसूची के प्रावधानों के अनुसार लोजपा के एकमात्र विधायक राजकुमार सिंह के जनता दल यूनाइटेड में विलय की सूचना अध्यक्ष ने सभी सदस्यों को दी.

पांच दिवसीय बिहार विधानसभा में विधायकों ने कुल 822 सवाल पूछे. इस सत्र में कुल 103 ध्यानाकर्षण सूचनाएं प्राप्त हुई, जिसमें आठ का जवाब हुआ और 89 सूचनाएं लिखित उत्तर सरकार के द्वारा दिए गए. मॉनसून सत्र में कुल 122 निवेदन विधायकों ने दिए जिसमें 121 स्वीकृत हुए और एक अस्वीकृत हुआ.  बिहार विधानसभा में कुल 8 राजकीय विधयकों की स्वीकृति दी गयी.

जानें किन-किन विधेयकों को मिली स्वीकृति
1-बिहार पंचायती राज्य संसोधन विधेयक 2021, 2- बिहार अभियंत्रण विश्वविद्यालय विधेयक 2021, 3-बिहार माल और सेवा कर संशोधन विधयेक 2021, 4-बिहार स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय विधेयक 2021, 5-बिहार खेल विश्वविद्यालय विधेयक 2021, 6-बिहार राजकोषीय उत्तरदायित्व एवं बजट प्रबंधन संशोधन विधेयक 2021, 7-आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2021, 8-बिहार विनियोग विधेयक 2021.

मॉनसून सत्र में सियासत भी खूब हुई
बिहार विधानसभा का मॉनसून सत्र कई मायनों में महत्वपूर्ण रहा. सत्ता पक्ष और विपक्ष के आरोपों के बीच कई महत्वपूर्ण विधेयक पास हुए तो हुए ही, वहीं जातिगत जनगणना को लेकर के भी सियासत खूब हुई. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुलाकात की और जल्द ही प्रधानमंत्री से मिलने का समय मांगने की भी बात कही है. बिहार विधानसभा के मॉनसून सत्र की कार्यवाही को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष अपनी अपनी उपलब्धियां गिनाने में जुटे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज