Bihar News: सरकारी बंगले के लिए तरस रहे 100 से अधिक विधायक, रिश्तेदार के घर और होटल में कट रहे दिन

बिहार में विधायकों के बंगला आवंटन के लिए बैठक करते अध्यक्ष और विभागीय मंत्री

बिहार में विधायकों के बंगला आवंटन के लिए बैठक करते अध्यक्ष और विभागीय मंत्री

बिहार के नवनिर्वाचित विधायकों को बंगला न मिलने से विधानसभा अध्यक्ष भी नाराज हैं. पटना में हुई बैठक में उन्होंने भवन निर्माण विभाग की कार्यप्रणाली पर ही गंभीर सवाल खड़े कर दिए.

  • Share this:
पटना. बिहार में विधानसभा चुनाव का परिणाम आए कई महीने गुजर गए हैं, लेकिन अभी भी 100 विधायक ऐसे हैं जो बिना सरकारी आवास के पटना में जैसे-तैसे रह रहे हैं. समस्या यहीं नहीं ख़त्म हो रही है. नवनिर्वाचित विधायकों को एक अदद सरकारी मकान के लिए कभी भवन निर्माण मंत्री के यहां तो कभी विधानसभा सचिवालय का चक्कर काटना पड़ रहा है. इसके बावजूद अभी तक बंगला आवंटित नहीं किया गया है.

विधायकों की नाराज़गी जब बढ़ती गई तो बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने विधायकों को जल्द से जल्द आवास दिलाने के लिए मंगलवार को विधानसभा में उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की. अध्यक्ष भी विधायकों के आवास न मिलने से नाराज थे. उन्होंने भवन निर्माण विभाग की कार्य प्रणाली पर सवाल खड़े किए और पूछा कि जब उन्होंने विधायकों के लिए बन रहे सरकारी भवन का निरीक्षण किया था और आदेश भी दिया था कि जल्द से जल्द विधायकों को उनका आवास मुहैया कराया जाए इसके बावजूद अभी तक इन्‍हें आवास क्‍यों नहीं मिला है.

विधानसभा अध्यक्ष ने साफ तौर पर कहा कि आवासन योजना के तहत पटना में बन रहे सरकारी आवासों में 62 वैसे फ्लैट्स हैं, जिनमें बहुत कम काम ही बचा है. उसे जल्द से जल्द पूरा कर विधानसभा सचिवालय को उपलब्ध कराया जाए, ताकि विधायकों को उनका आवास मुहैया कराया जा सके. दरअसल, कई विधायक बंगला नहीं मिलने की वजह से किराए पर या किसी होटल में या फिर अपने नाते-रिश्तेदारों के यहां रुके हुए हैं. उन्हें समस्या तब आती है जब उनके विधानसभा क्षेत्र से बड़ी संख्या में लोग मिलने आ जाते हैं.

इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष ने 4 जनवरी 2021 को हुई बैठक तथा स्थल निरीक्षण के बाद इस दिशा में किसी तरह की प्रगति न होने पर नाराज़गी जाहिर कर चुके थे. बैठक में ये भी तय हुआ कि विधानपरिषद पूल के 30 आवास भवन निर्माण विभाग में ट्रांसफर किया जाएगा. साथ ही पटना के कंकड़बाग में बहादुरपुर के आवास बोर्ड के 10 फ्लैटों को जल्‍द ही तैयार किया जाएगा. दारोग़ा  राय पथ में विधायक आवासों को सुसज्जित करने का निर्देश भी दिया गया था. बैठक में भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, विधानपरिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह भी मौजूद थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज