लाइव टीवी

पटना में 6 महीनों में रंगदारी के 50 से अधिक केस सामने आए तो कानून-व्यवस्था पर उठे सवाल

Sanjay Kumar | News18 Bihar
Updated: December 17, 2019, 10:45 PM IST
पटना में 6 महीनों में रंगदारी के 50 से अधिक केस सामने आए तो कानून-व्यवस्था पर उठे सवाल
पटना में 6 महीनों में रंगदारी के 50 से ज्यादा मामलों से दहशत. (फाइल फोटो)

बिहार में अपराध (Crime in Bihar) पर नकेल कसने के तमाम दावों के बावजूद अपराधियों की हरकतें थम नहीं रहीं. राजधानी पटना (Patna) में ही 6 महीनों में रंगदारी मांगे जाने के 50 से अधिक मामलों (extortion cases) के सामने आने के बाद पुलिस-प्रशासन (Bihar Police) पर सवाल खड़े होने लगे हैं.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: December 17, 2019, 10:45 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) की नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) सरकार के पहले दो कार्यकालों को याद करते हुए लोग अपराध और अपराधियों (Crime in Bihar) पर नकेल की दाद दिया करते हैं. लेकिन पिछले कुछ महीनों में प्रदेश में जो हालात देखे जा रहे हैं, उसके बाद अब पुलिस-प्रशासन (Bihar Police) के साथ-साथ सरकार पर भी सवाल उठने लगे हैं. राज्य के सुदूर जिलों से इतर, राजधानी पटना में एक के बाद एक रंगदारी मांगने (extortion cases) के मामलों के सामने आने के बाद यह सवाल लाजिमी भी लगता है. रंगदारी मांगे जाने की घटनाओं से सबसे ज्यादा परेशान कारोबारी तबका है. खासकर जब 'खाकी' और 'खादी', दोनों पर ऐसे आरोप लगें तो इस तबके के लिए कुछ भी बोलना और मुश्किल हो जाता है. आपको जानकर हैरत होगी कि पिछले 6 महीनों में पटना में रंगदारी के 50 से अधिक मामले सामने आए हैं. इसने कानून-व्यवस्था को लेकर कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

इन मामलों से फैली दहशत
1. थानेदार पर रंगदारी मांगने का आरोप- पिछले 16 नवंबर को खगौल के थानेदार मुकेश कुमार पर अपराधियों के साथ मिलकर 15 लाख की रंगदारी मांगने का आरोप फुलवारीशरीफ निवासी कन्हैया नाम के शख्स ने लगाया. इससे पुलिस महकमे में सनसनी फैल गई. आरोप है कि थानेदार कुख्यात मुचकुंद गिरोह के सरगना राहुल के साथ मिलकर रंगदारी मांगी. पीड़ित कन्हैया ने इस मामले में एसएसपी से गुहार लगाई है.

2. पूर्व सांसद पर भी आरोप- पिछले 20 नवंबर को बिल्डर प्रभात कुमार चौधरी ने एक पूर्व सांसद पर 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगने का आरोप लगाया. चौधरी ने पूर्व सांसद के खिलाफ गांधी मैदान थाने में एफआईआर भी दर्ज कराई. उनका आरोप था कि पूर्व सांसद ने उन्हें 13 नवंबर को फोन किया था. इसके बाद आवास पर आकर कहा कि राजभवन मार्च है, और उस दिन काफी खर्च होगा. इसके लिए आपको 20 लाख रुपए देने होंगे. बिल्डर ने जब इतनी बड़ी रकम देने में असमर्थता जताई, तो 14 और 15 नवंबर को धमकी भरा फोन आया.

3. दवा दुकानदारों से रंगदारी मांगी- पिछले 14 नवंबर को किंग गिरोह ने पटना एम्स के मुख्य गेट के सामने ताबड़तोड़ गोलीबारी कर दहशत फैला दी. वहीं, एम्स के सामने तीन दवा दुकानदारों से रंगदारी मांगी. अपराधियों ने किंग्स ऑफ पटना के नाम से चिट्ठी भेजकर मोटी रकम की मांग कर रखी थी. रंगदारी नहीं मिलने पर गोलीबारी की घटना हुई थी.

4. गौरीचक में कारोबारियों से रंगदारी- पिछले 13 नवंबर से लगातार पटना के गौरीचक थाना क्षेत्र के केसारी इलाके में नक्सली संगठन के नाम पर कारोबारियों से लाखों रुपए रंगदारी मांगने का मामला सामने आया था. चुन्नू साव नामक कारोबारी ने आरोप लगाया था कि नक्सली संगठन एमसीसी के नाम से उससे 20-20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई है. कारोबारी ने पुलिस को रंगदारी मांगने वाले के दोनों मोबाइल नंबर की जानकारी भी दी थी.

5. विधायक से मांगी रंगदारी- भोजपुर के बड़हरा से राजद विधायक सरोज यादव से 10 लाख रंगदारी मांगने का मामला सामने आया. 13 सितंबर को विधायक को परिवार समेत बम से उड़ाने की धमकी दी गई. पटना के ही दानापुर थाने में इसको लेकर केस दर्ज हुआ था.ये भी पढ़ें -

आरा में डबल-मर्डर, हथियारबंद अपराधियों ने की मिठाई दुकानदार समेत 2 की गोली मारकर हत्या

 

पटना में नजरबंद किए गए पप्पू यादव, पूछा- सरकार को मुझसे कैसा खतरा ?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 17, 2019, 10:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर